Monday, 20th November, 2017

चलते चलते

मुझे भी समझ नहीं आ रहा इंडिया का ये GST: स्टीफन हॉकिंग

28, Jun 2017 By Ritesh Sinha

लंदन/नयी दिल्ली. वर्तमान में दुनिया के सबसे बड़े वैज्ञानिक माने जाने वाले स्टीफन हॉकिंग ने भी GST को लेकर अपने हाथ खड़े कर दिए हैं। उन्होंने साफ़-साफ़ क़बूल किया है कि इस GST को समझना उनके बस की बात नहीं है। इसलिए उनसे इस बारे में सवाल ना पूछे जायें।

stephen hawking
जीएसटी के बारे में सोचकर डर रहे हॉकिंग

कल शाम उन्होंने कुछ पत्रकारों को अपने इशारे से बताया कि “इस GST को मैंने समझने की बहुत कोशिश की लेकिन सब ऊपर से निकल गया। सोच रहा था कि पहले मैं समझूंगा, फिर इंडिया वालों को सरल भाषा में समझा दूंगा, लेकिन कुछ पल्ले ही नहीं पड़ा। मेरा अपना काम ही ठीक है भैया! नया ग्रह ढूंढने वाला! इसे तो अरुण जेटली ही झेलें!” हॉकिंग के अलावा कई दूसरे वैज्ञानिकों ने भी GST को अपने राडार से बाहर का बताया है।

हॉकिंग के इस बयान के बाद भारत में ख़ुशी की लहर दौड़ गई है। रोहिणी के रहने वाले अंकित कुमार ने बताया कि “जो बात स्टीफन हॉकिंग के समझ नहीं आ रही है, वो मेरी समझ में क्या ख़ाक आएगी? मैंने तो बहुत पहले ही हथियार डाल दिए थे। लेकिन अब मुझे कोई गम नहीं है, क्योंकि अब हमारी जमात में स्टीफन हॉकिंग जैसा बड़ा नाम जुड़ गया है।”

कांग्रेस पार्टी भी इस मसले पर ज्यादा नहीं बोल पा रही है। उसके एक नेता ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया कि “एक तो राहुल जी एन मौके पर गायब हो जाते हैं, कठिन सवालों के जवाब देने के लिये यहाँ हमें छोड़ जाते हैं। हमें तो GST का समर्थन करने के लिए कहा गया था इसलिए हमने भी हाथ उठा दिया। बाकी अब राहुल जी ही जानें!”

उधर, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अपने एक बयान में कहा है कि “देखिए! आजकल काम बहुत बढ़ गया है, आप मुझे डिस्टर्ब मत कीजिए। 31 जून को होने वाले समारोह की तैयारियों में लगा हुआ हूँ! जहाँ तक GST का प्रश्न है, तो मुझे और हंसमुख दोनों को GST पूरा समझ में आता है, इसलिए आप लोग ज्यादा टेंशन मत लीजिए, हम सब देख लेंगे!” -कहते हुए वे संसद के सेंट्रल हॉल में फूल सजाने निकल पड़े।



ऐसी अन्य ख़बरें