Wednesday, 22nd November, 2017

चलते चलते

मोदी जी ने व्हॉट्सएप पर भेज दिए ढेर सारे 'हग्स'; ट्रंप हुए ढेर, कराना पड़ा अस्पताल में भर्ती

30, Jul 2017 By Vish

वॉशिंगटन डीसी. अमेरिका के राष्ट्रपति डाॅनाल्ड ट्रम्प को कल देर रात अचानक मेड्स्टार हॉस्पिटल में भर्ती कराना पड़ा। ख़बर के मुताबिक अभी तक उन्हें होश नहीं आया है और उनकी स्थिति नाजुक बनी हुई है। मेट्रोपोलिटन पोलिस डिपार्टमेंट (MPD) ने जब क्राईम सीन पर पहुँच कर ट्रम्प का मोबाइल फ़ोन जब्त किया तब पता चला कि इस हादसे के पीछे प्रधानमंत्री मोदी जी का उनको कई बार ‘हग’ करना (गले लगाना) था। आइये आपको विस्तार से पूरे घट्नाक्रम के बारे में बताते हैं।

Modi-Trump6
उन हग्स में यह घातक हग भी शामिल था

कल रात काफ़ी देर तक मोदी जी और ट्रंप जी दोनों एक दूसरे से व्हॉट्सएप पर चैट कर रहे थे। ट्रम्प शुरु में मोदी जी से थोड़े खफ़ा नज़र आ रहे थे और उन्होंने अपनी नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए मुँह टेढा कर (ईमोटिकाॅन द्वारा) कहा भी कि “तुम तो जिस भी देश में जाते हो, वहाँ के लीडरों को उसी गर्मजोशी से गले लगाते हो जैसे मुझे! फिर मेरी और उनकी दोस्ती में क्या फ़र्क?” पर अपने मोदी जी से कोई ज़्यादा देर तक रूठा रह सकता है भला?

मोदी जी ने फ़ौरन उनसे चुटकी लेते हुए कहा, “अरे रूठते क्यूँ हो मित्र डोनाल्ड? वे सब तो जैसे गोपियाँ हैं, मेरे मन की राधा तो तुम ही हो ज़ालिम!” यह कहकर उन्होंने ट्रम्प को गले लगाती पिक को अपना डीपी सेट कर लिया और साथ ही ट्रम्प भी उनसे सेट हो गये। फिर कुछ देर तक दोनों एक दूसरे को जीभ चिढाते रहे।

बातों का सिलसिला आगे बढ ही रहा था कि मोदी जी भावनाओं में बहने लगे और उन्होंने बात-बात पर अपने मित्र को हग करना शुरू कर दिया। देखते ही देखते उन्होंने ट्रम्प को महज़ डेढ घण्टे के अन्दर 147 हग्स भेज दिये। काफ़ी देर तक तो ट्रम्प मोदी जी के हग्स के आगे डट कर खड़े रहे पर 80-90 हग्स के बाद उनकी हालत पतली होने लग गयी। उनकी पसलियों में तेज़ दर्द उठने लगा, साँसें फूलने लगीं तथा आँखें बाहर आने लगी और ठीक सेन्चुरी पूरी होने से पूर्व एक विशाल दमघोंटू bearhug आया जो उन्हें ढेर कर गया। उधर इस बात से अनजान मोदी जी रुकने का नाम नहीं ले रहे थे। वो तो अगली यात्रा पे जाने के लिये जब उनकी फ्लाइट का टाइम हुआ तब कहीं जाकर उनका हग अटैक थमा।

यही नहीं, जब MPD वहाँ पर आयी और उनके एक आॅफ़िसर ने जैसे ही ट्रम्प का फोन अपने हाथों में लिया, एक हग वाला एनिमेटेड 3D gif लपक कर उसकी तरफ़ बढा और लगभग उसे अपनी जकड़ में कैद कर ही लिया था कि वो घबराकर नीचे गिरा और उसके हाथ से फ़ोन छूट गया। इस तरह वो आॅफ़िसर बाल-बाल बच तो गया पर सदमे की वजह से उसे 2 दिन की छुट्टी दे दी गयी है। इसके बाद पुलिस वालों ने बड़ी सावधानी से ट्रम्प का फ़ोन स्विच आॅफ़ किया तब कहीं जाकर हालात काबू में आये।

उधर, जब मोदी जी की फ्लाइट लैण्ड हुई तो हमारे रिपोर्टर ने उनसे पूछा कि उन्होंने ट्रम्प की ऐसी हालत क्यूँ की। इस बात का एहसास किये बिना कि वो एक विशाल रैली के सामने नहीं बल्कि एक रिपोर्टर के सामने खड़े हैं, ऊँचे स्वर में गरजे, “वो कहते थे… मोदी झूठा है, मतलबी है, बेईमान है। अब क़ातिल भी बना दिया। भाईयो और बहनो… मैं आपसे पूछता हूँ, क्या अपने मित्र को गले लगाना गुनाह है?” इससे पहले कि मोदी जी कुछ और कह पाते हमारा रिपोर्टर माइक फेंक कर सुपरहीरो फ़्लैश की तेज़ी से वहाँ से भाग गया।



ऐसी अन्य ख़बरें