Friday, 20th January, 2017
चलते चलते

टीचर्स ने नवाज़ शरीफ़ से माँगा देश का असली नक्शा, पूछा- पाकिस्तान का कितना हिस्सा वास्तव में हमारा है, बताओ?

30, Aug 2016 By Ritesh Sinha

इस्लामाबाद. पाकिस्तान में इन दिनों लगभग हर जगह पाकिस्तान से ही अलग होने के लिए प्रदर्शन हो रहे हैं। इन सबके बीच, पाकिस्तान के शिक्षकों की समस्या पर कोई ध्यान नहीं दे रहा है। वैसे तो पाकिस्तान में स्कूल बहुत थोड़े बचे हैं, लेकिन जितने भी हैं उनके टीचर्स आजकल बहुत गुस्से में हैं। दरअसल पाकिस्तान के टीचर्स को शक होने लगा है कि उनका देश उतना बड़ा नहीं है, जितना वो अपने बच्चों को पढ़ा रहे हैं।

Pak Crowd4
नवाज़ से असली नक्शा मांगते पाकिस्तान के शिक्षक

इससे तंग आकर ‘ऑल पाकिस्तान टीचर्स एसोसिएशन’ (आप्टा) से जुड़े टीचर सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन कर रहे हैं और उनसे पाकिस्तान का असली नक्शा दिखाने की मांग कर रहे हैं। ‘आप्टा’ ने धमकी दी है कि जब तक मियाँ नवाज हमें असली नक्शा उपलब्ध नहीं करायेंगे, तब तक हम पढ़ायेंगे नहीं!

इस्लामाबाद में प्रदर्शन कर रहे भूगोल के एक टीचर अज़ीज़ हुसैन साब ने बताया कि “हम अपने स्कूल में बलोचिस्तान को पाकिस्तान का हिस्सा पढ़ा रहे थे, अब मोदी कहता है कि वो हिन्दुस्तान का इलाका है। हम PoK को भी पाकिस्तान का हिस्सा पढ़ा रहे थे, मोदी कह रहा है कि वो भी हिंदुस्तान का है। जब सब कुछ हिंदुस्तान का है तो हमारा क्या है? घंटा! उधर वो चीन वाले हमारे देश में CBI की तरह कहीं भी घुस जाते हैं। वो अफगानिस्तान वाले भी आए दिन हमसे अपना हिस्सा मांगते रहते हैं।”

“मुझे तो लगता है कि कुछ दिन बाद हमारे पास कार पार्किंग के लिए भी जगह नहीं बचेगी। इसीलिए हम शरीफ साहब से मांग करते हैं कि वो हमें पाकिस्तान का असली नक्शा दें, ताकि हमें पता तो चले कि वास्तव में हमारा हिस्सा कितना है ताकि हम स्कूल में उसी हिसाब से पढ़ा सकें।” कहते हुए अजीज साब भावुक हो गए।

इस बीच ख़ुफ़िया सूत्रों से पता चला है कि नवाज शरीफ के पास भी असली नक्शाम मौजूद नहीं है, वो भी विवादित नक्शा लेकर घूम रहे हैं। लेकिन फिर भी उन्होंने टीचर्स को भरोसा दिलाया है कि वो जल्द ही चीन से वेरीफ़ाई कराकर नया नक्शा जारी करेंगे, जिसमे वही इलाके होंगे जो वास्तव में पाकिस्तान के हैं, तब तक उसी पुराने नक़्शे से काम चलाया जाए। इस आश्वासन के बाद सभी टीचर्स ने अपना प्रदर्शन वापस ले लिया है।



ऐसी अन्य ख़बरें