Tuesday, 25th July, 2017
चलते चलते

पाकिस्तान का सेटेलाइट लॉन्च हुआ फेल, भारत पर लगाया फ्यूज कंडक्टर निकालने का आरोप

29, Jun 2017 By नास्त्रेदमस

इस्लामाबाद. ये तो सब जानते ही हैं कि पाकिस्तान हमेशा हर चीज़ में भारत से होड़ करने की कोशिश करता है। अगर वो इसमें सफल हो जाता है तो सारा क्रेडिट अमेरिका या चीन ले जाते हैं और असफल हो जाता है तो वो सारा ठीकरा भारत पे फोड़ देता है। ऐसा ही कुछ देखने को मिला पाकिस्तान के रॉकेट- HSLV (हिज्बुल मुजाहिद्दीन सेटेलाइट लॉन्च व्हीकल) की विफलता के बाद!

Brigadier Suryadev
मिसाइल के फ्यूज कंडक्टर निकालते सूर्यदेव सिंह

हाल ही में भारत ने GSLV मार्क-3 रॉकेट का सफलतापूर्ण प्रक्षेपण किया था, उसी से खुंदक खाकर और चैपियंस ट्रॉफी की जीत के जोश में आकर पाकिस्तान ने भी आनन फानन में अपने HSLV का प्रक्षेपण कर डाला। जो पिछली दिवाली के रखे हुए पटाखों की तरह फुस्स हो गया और हमेशा की तरह पाकिस्तान ने इस विफलता का कारण भी भारत को बता दिया।

पाकिस्तान स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाईजेशन (पिसरो) के अध्यक्ष बिलावल फट ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि “वैसे तो सब बराबर था, हमने रॉकेट को 2 दिन धूप में भी रखा था, ताकि अहम वक़्त पे बारूद में सीलन ना आ जाये पर हमेशा की तरह भारत इस बार भी लास्ट टाइम पे टंगड़ी दे गया और हमारे रॉकेट का फ्यूज कंडक्टर निकालकर ले गया।”

रॉकेट की तरह नथुनों से धुआँ छोड़ते हुए फट ने आगे कहा कि “हमें शक है कि इस काम के लिए भारत ने अपनी ख़ुफ़िया एजेंसी के सबसे बहादुर कमांडर ब्रिगेडियर सूर्यदेव सिंह के छोटे भाई ब्रिगेडियर चंद्रदेव सिंह को लगाया था। ब्रिगेडियर सूर्यदेव मरने से पहले राकेट से फ्यूज कंडक्टर निकालने का ये फार्मूला सिर्फ अपने भाई को ही बता के गए थे और पूरे हिंदुस्तान में सिर्फ वही है जो इस काम को अंजाम दे सकता है।”

वहीं, भारत ने पाकिस्तान के इस आरोप को सिरे से ख़ारिज कर दिया है। बॉलीवुड से प्रेरित इस आरोप की गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कड़ी निंदा की है और चुटकी लेते हुए कहा है कि “चाइनीज माल यूज करेंगे तो फुस्स तो होगा ही!”



ऐसी अन्य ख़बरें