Thursday, 18th January, 2018

चलते चलते

"पैसा नहीं देना है तो मत दो! हम Crowd Funding कर लेंगे!" -पाकिस्तान का अमेरिका को जवाब

02, Jan 2018 By Ritesh Sinha

इस्लामाबाद. नये साल में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प फ़ुल ‘फॉर्म’ में नज़र आ रहे हैं। साल के पहले ही दिन उन्होंने ट्वीट करके पाकिस्तान को खरी-खोटी सुनाई और उसे 1600 करोड़ रुपए की सैन्य मदद भी रोक दी। ट्रम्प ने ग़ुस्से में ट्वीट में करते हुए कहा कि “पाकिस्तान इतने सालों से हमें बेवकूफ बना रहा था। अब ये सब नहीं चलेगा!”

us-aid-protest-pak
ट्रंप को कोसते पाकिस्तानी

इससे पता चलता है कि अमेरिका को बेवकूफ बनाना कितना आसान है क्योंकि अगर पाकिस्तान ये सब कर सकता है, तो इसका मतलब है कि कोई भी कम टैलेंटेड आदमी यह काम आसानी से कर सकता है। इसलिए कुछ और लोगों को भी इस फील्ड में उतरना चाहिए और अमेरिका से कुछ करोड़ डॉलर ऐंठ लेने चाहिए। ट्राई करने में क्या बुराई है! स्टार्ट-अप के लिये यह अच्छा आइडिया है।

उधर, ट्रम्प के इस बदलते सुर की तारीफ़ भी हो रही है। लेकिन पाकिस्तान वाले भी हाथ पे हाथ धरकर नहीं बैठे हैं। वहां के पीएम शाहिद खाकन ने ट्रम्प को फोन करके साफ़-साफ़ कह दिया कि- “ट्रम्प साब आप अच्छे आदमी नहीं हो! पुराना वाला प्रेसिडेंट टाइम पे पैसा भेज देता था! खैर! नहीं देना है तो मत दो! हम मरे नहीं जा रहे हैं तुम्हारे डॉलरों के लिए! हम Crowd Funding कर लेंगे! लेकिन अपना ‘प्रोडक्शन’ बंद नहीं करेंगे!”

तभी उनके सेक्रेटरी उनके कान में फुसफुसाए- “सर! ये क्या कह दिया आपने! वो तो उल्टा-सीधा ट्वीट करता रहता है और आपने सच मान लिया? वो अभी गुस्से में है, कुछ दिन बाद खुद बुलाकर पैसा देता वो! सारा खेल बिगाड़ दिया आपने!”

“तुम टेंशन मत लो!”- कहते हुए शाहिद खाकन ने अपने नये बॉस को फोन मिलाया और बोले- “डियर शी जिनपिंग साब! आपको तो पता ही होगा, पुराने वाले ने पैसा देना बंद कर दिया है! आपका भी इस महीने का किश्त अब तक नहीं आया! अगर देर हुई तो लड़के आपके यहाँ ही घुस जाएँगे! जल्दी भेजिए!”



ऐसी अन्य ख़बरें