Wednesday, 26th July, 2017
चलते चलते

पाक ने तारा सिंह द्वारा उखाड़े गए हैंडपंप का मामला फिर यूएन में उठाया, भारत ने जताया कड़ा विरोध

07, Sep 2016 By चीखता सन्नाटा

नई दिल्ली/न्यूयॉर्क. पाकिस्तान ने तारा सिंह द्वारा हैंडपंप उखाड़े जाने की घटना को संयुक्त राष्ट्र में फिर से उछाल कर अपने भारत-विरोधी अभियान को नए सिरे से तेज करने की कोशिश की है। पाकिस्तान के इस कदम को प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 15 अगस्त को दिए गए भाषण में पीओके और बलूचिस्तान का उल्लेख करने से जोड़ कर देखा जा रहा है। हैंडपंप वाले मामले को हवा देने के लिए पाकिस्तान ने अपने सदाबहार दोस्त चीन से भी मदद माँगी है।

Gadar
पाकिस्तान के हैंडपंप को उखाड़ते तारा सिंह

इस मामले को यूएन में उठाते हुए पाकिस्तान के विदेश मंत्री हरबात लजीज ने कहा- “पाकिस्तान हमेशा से एक अमन पसंद मुल्क रहा है, जिसकी तरक्की हिन्दुस्तान की आँखों में खटकती है। हमारे पास पुख्ता सबूत हैं कि तारा सिंह ‘रॉ’ का एजेंट था, जो पाकिस्तान में आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त था और पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को तोड़ने के लिए उसने पाकिस्तान के हैंडपम्प को उखाड़ने का षड्यंत्र रचा। भारत की इस हरकत ने कश्मीर के लोगों के जले पर नमक छिड़का है। कश्मीर हिंदुस्तान के जुल्मो-सितम से दबा हुआ है।” -हरबात लजीज ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया। साथ ही उन्होंने वह वीडियो भी जारी किया जिसमें तारा सिंह हैंडपंप से पाकिस्तान के लोगों को मारते दिखाई दे रहे हैं।

पाकिस्तान के इन आरोपों का कड़ा जवाब देते हुए संयुक्त राष्ट्र में भारत के विशेष दूत ने कहा कि “पाकिस्तान अपनी करतूतों पर पर्दा डालने के लिए तारा सिंह जैसे मासूम नागरिकों की आड़ ले रहा है। तारा सिंह उसी हैंडपंप को वापस लाये हैं, जिसे जिन्ना विभाजन के समय चुपके से अपने साथ ले गए थे।”

भारत के कूटनीतिक प्रयासों के बाद भी पाकिस्तान इस मामले पर पीछे हटता नहीं दिख रहा है। पाकिस्तान सरकार ने हैंडपंप उखाड़ने की तारीख (15 जून, इसी दिन गदर रिलीज हुई थी) को ‘काला-दिवस’ बनाने की घोषणा की है। पूरे पाकिस्तान में इस दिन न कोई हैंडपंप के पानी से नहायेगा और न ही कपड़े धोएगा। साथ ही, जिस जगह से हैंडपंप उखाड़ा गया था, उस जगह को राष्ट्रीय स्मारक घोषित करने का प्रस्ताव शीघ्र ही पाकिस्तान संसद में लाया जाएगा। स्मारक को बनाने के लिए खर्चा मांगने के लिए शीघ्र ही पाकिस्तानी प्रधानमंत्री चीन का दौरा करेंगे।

इस बीच, हरबात लजीज को जैसे ही ख़बर मिली कि राजनाथ सिंह पाकिस्तान के इस कदम की कड़ी निंदा करने संयुक्त राष्ट्र पहुंचने वाले हैं, वो न्यूयॉर्क छोड़कर भाग गये और कहीं भूमिगत हो गये।

उधर, फ़ेकिंग न्यूज़ को पता चला है कि तारा सिंह पाकिस्तान से उखाड़े गए हैंडपंप को घर में चटनी पीसने के काम में इस्तेमाल में ला रहे है। घरवालों ने बातचीत में बताया कि हमारे पूरे मोहल्ले में तारा से कोई उलझने की हिम्मत नहीं करता क्योंकि अगर कोई तारा से पूछता है कि “क्या उखाड़ लोगे?”, तो तारा फट से कह देता है- “हैंडपंप!”



ऐसी अन्य ख़बरें