Friday, 24th February, 2017
चलते चलते

#TryBeatingMeLightly पर विवाद के बाद पाक में क़ानून बदला, मारपीट की जगह अब प्यार से दे सकेंगे गाली

03, Jun 2016 By banneditqueen

कराची. पिछले हफ़्ते पाकिस्तान की एक धार्मिक संस्था ने कहा था कि अगर पत्नियां अनुचित व्यवहार करें तो उनकी थोड़ी-बहुत पिटाई की जा सकती है। इस ख़बर के फैलते ही ट्विटर और फेसबुक पर हड़कम्प मच गया। पाकिस्तान में महिलाओं ने इस पर कड़ा एतराज़ जताया।

Husband-Wife
पत्नी को हल्की पिटाई का आशीर्वाद देता पति

भारी विरोध को देखते हुए संस्था के मौलवियों ने अपना ये कानून वापस ले लिया और उसमें बदलाव करने का वादा किया। आज अपने उसी वादे पर अमल करते हुए उन्होंने उस विवादित कानून में बदलाव कर दिया। नये क़ानून में उन्होंने प्रावधान किया है कि अगर किसी की पत्नी या पत्नियां ठीक ढंग से पेश ना आयें तो पति उन्हें प्यार से गाली दे सकते हैं। लेकिन अगर किसी पुरुष की एक से ज़्यादा पत्नियां हैं तो उसे उनके लिये अलग-अलग गालियां इस्तेमाल करनी पड़ेंगी।

मौलवियों ने रेडी रेफरेंस के तौर पर गालियों की एक सूची भी बनाई है, जिसमें ‘नामाकूल’ और ‘लाहौल विला कुव्वत’ जैसे शब्द शामिल हैं। इन सभी गालियों की जानकारी जुम्मे की नमाज़ के बाद इलाक़े की मस्जिदों के लाउडस्पीकरों से भी दी जायेगी।

लेकिन कानून में इतने बड़े बदलाव के बाद भी पाकिस्तान की महिलाओं का ग़ुस्सा कम नहीं हो रहा है। नये कानून का एलान होते ही संस्था के बाहर प्रदर्शनकारी महिलाओं की भीड़ लग गई। ये सारी महिलाएं जूते-चप्पल और झाड़ू लेकर इस कानून को बनाने वालों को हल्के से मारने के लिये जमा हुई हैं।

दूसरी ओर, पाकिस्तान के गृह मंत्री का कहना है कि “ये भारत के वज़ीरे-आज़म नरेंदर मोदी की पाकिस्तान में अस्थिरता फैलाने की नयी चाल है।” पाकिस्तान के न्यूक्लियर प्रोग्राम के पापा ए क्यू खान ने कहा है कि “भारत हमारे न्यूक्लियर बम की खबर से सहम गया है इसलिये अब हमारी महिलाओं को भड़का रहा है।”



ऐसी अन्य ख़बरें