Thursday, 14th December, 2017

चलते चलते

डोनाल्ड ट्रम्प ने नहीं किया कोई बेवक़ूफ़ी वाला ट्वीट, ट्विटर ने 24 घंटे के लिए बंद किया अकाउंट

28, Nov 2017 By Guest Patrakar

वाशिंगटन. ट्विटर भारत के संसद भवन जैसा है। यहाँ भी लोग शिकायतें करते है, सुझाव देते है, झगड़ते है गालियाँ देते है और हर रोज़ बवाल होता ही होता है। ऐसा ही बीते बुधवार को हुआ जब दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का ट्विटर अकाउंट 24 घंटों तक बंद रहा। जिसके बाद ना केवल अमेरिका के मगर पूरे विश्व के ट्विटर पर हंगामा हो गया। ट्विटर के ऑफ़िशल हैंडल ने इसकी वजह बतायी, क्या थी वह वजह आइए जानते हैं।

ट्विटर को न्यूक्लियर बम से उड़ाने पहुँचे डोनाल्ड
ट्विटर को न्यूक्लियर बम से उड़ाने पहुँचे डोनाल्ड

ऐसा पहला बार नहीं हुआ, जब ट्रम्प का अकाउंट ही बंद कर दिया हो। इससे पहले भी उनका अकाउंट पूरे चार घंटे तक बंद रहा था। लेकिन इस बार माजरा अलग था। इस बार तो ट्विटर ने उनके अकाउंट को पूरे चौबीस घंटे के लिए बंद कर दिया।

सूत्रों की मानें तो ट्रम्प बहुत ही ग़ुस्से में थे और ट्विटर पर हमला करने की प्लानिंग करने लगे थे। पर फिर किसी ने उन्हें बताया कि ट्विटर कोई देश नहीं बल्कि एक ‘वर्चुअल वेबसाइट’ है। लेकिन वो तब भी नहीं माने और उन्होंने गूगल को ख़ुद का अपना ट्विटर बनाने का आदेश दे दिया, इतना सुनते ही गूगल के CMO क्रैग सिम्प्सॉन ने ख़ुदख़ुशी करने की ठान ली।

हालाँकि ट्विटर ने सफ़ाई देते हुए इसकी वजह बताई और इसका ज़िम्मेदार किसी और को नहीं बल्कि ख़ुद ट्रम्प को ही बताया।

ट्विटर एग्जीक्यूटिव टिम बोसन्न का कहना है कि “ट्रम्प का अकाउंट सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों में से एक है, अगर वो अपनी बेवक़ूफ़ी से भरी ट्वीट नहीं करेंगे तो लोग उनका रिप्लाई में मज़ाक़ कैसे उड़ाएँगे और हमें प्रतिक्रिया कैसे मिलेंगी। उन्होंने चार दिन से कोई भी बेवक़ूफ़ी भरा ट्वीट नहीं किया था। हम तो यहाँ तक भी सह लेते लेकिन उन्होंने तो विकास और अमेरिका को मज़बूत बनाने जैसे ट्वीट कर डाले। बस फिर हमसे रहा नहीं गया और हमने उनका अकाउंट बंद कर दिया।”

इस से पहले भी ट्विटर की टीम ने कई बड़े अकाउंट बंद किये हुए हैं। जिनमें सबसे आगे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी का था। जिनका अकाउंट केवल इसलिए बंद कर दिया था क्योंकि उन्होंने रोज़ की तरह हर चीज़ पर मोदी को कोसना अचानक से बंद कर दिया था। फिर जब मनीष सिसोदिया ने बताया कि केजरीवाल विपासना में व्यस्त हैं और आते ही वापस काम पर लग जाएँगे तब कहीं जाकर उनका अकाउंट चालू किया गया।

अब अगर नदियाँ उलटी बहना शुरू हो जायें या सूरज रात को निकलने लगे तो कोई भी चौकेंगा ही! यह तो फिर भी ट्विटर है। अब ये शक्तिशाली लोग अगर अपनी रोज़मर्रा वाली हरकतें नहीं करेंगे तो ट्विटर की रोज़ी-रोटी कैसे चलेगी? शायद यही वजह है कि ट्विटर बिना बताए ऐसे लोगों का अकाउंट बंद कर देता है।



ऐसी अन्य ख़बरें