Thursday, 14th December, 2017

चलते चलते

अब तक दस हज़ार 'एप्स' और बीस हज़ार 'वेबसाइट' लॉन्च कर चुकी है मोदी सरकार

24, Nov 2017 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. फ़ेकिंग न्यूज़ के हाथ लगे दस्तावेजों से पता चला है कि मोदी सरकार को वेबसाइट और एप्स लॉन्च करने की ऐसी लत लग गई है, जिसने धीरे-धीरे बीमारी का रूप ले लिया है। मोदी सरकार अब तक दस हज़ार नये एप्स और लगभग बीस हज़ार नयी वेबसाइट लॉन्च कर चुकी है। भले ही ये वेबसाइट्स दो दिन बाद ही ठप्प पड़ जाएं, लेकिन सरकार इन्हें लॉन्च करना नहीं छोड़ती। यही हाल एप्स का है, आए दिन तरह-तरह के एप्प लॉन्च होते रहते हैं, भले ही उसे कोई यूज करे या ना करे!

NaMo App
अपने एप के साथ प्रधानमंत्री मोदी

इस वारदात को अंजाम देने में सबसे बड़ा हाथ प्रधानमंत्री मोदी का बताया जा रहा है। वे जहां भी जाते हैं, 10-12 वेबसाइट निपटाकर ही आते हैं। हर योजना के लिए एक अलग वेबसाइट और हर वेबसाइट का एक अलग एप्प होना ज़रूरी बना दिया गया है। इसके अलावा, कई मंत्री भी अपने-अपने स्तर पर इस वारदात को अंजाम देते रहते हैं। पीयूष गोयल का आधा समय तो एप्प लॉन्च करने में ही बीत जाता है, यही हाल नितिन गडकरी का भी है। यहाँ तक कि गंगा सफाई के काम में भी ‘एप्स’ को लगा दिया गया है।

एनआईसी के एक बड़े अधिकारी ने फ़ेकिंग न्यूज़ को बताया कि, “क्या बताऊँ भाईसाब! जब से ये सरकार आई है, हमें तो साँस लेने की भी फुरसत नहीं है! लेकिन आजकल तो हम ऑर्डर पूरा नहीं कर पा रहे हैं! केंद्र सरकार तो बैंड बजाती ही है, राज्य सरकार वाले भी हमें चैन नहीं लेने दे रहे!”

प्रधानमंत्री मोदी शुरू से ही नयी तकनीक को अपनाने के पक्ष में रहे हैं, लेकिन सारी सुविधाएँ एक जगह देने के बजाय आजकल हर सेवा के लिए अलग वेबसाइट बना दी गई है, नतीजा यह होता है कि कोई उस पर ध्यान ही नहीं देता। ‘BHIM’ एप्प के अलावा शायद ही कोई एप्प है जो आम जनता यूज करती है।

उधर, कांग्रेस ने भी केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला है। पूर्व संचार मंत्री कपिल सिब्बल ने कहा है कि “ये सरकार वेबसाइट लॉन्च करने के अलावा और कोई काम नहीं कर रही! अगर 2019 में हमारी सरकार आयी, तो हम राहुल जी के नेतृत्व में वेबसाइट ही बनाना बंद कर देंगे! ऐसे ही काम चलाएंगे, पुराने स्टाइल से!”



ऐसी अन्य ख़बरें