Monday, 26th June, 2017
चलते चलते

फ्री सॉफ्टवेयर का License agreement बिना पढ़े किया Accept, जमीन जायदाद गँवायी

13, Aug 2016 By banneditqueen
license-agreement
इस एग्रीमेंट की वजह से गयी मदन की ज़ायदाद

मथुरा. जमीन जायदाद से जुड़े घपलों के किस्से तो आपने बहुत सुने होंगे पर एेसा किस्सा शायद पहले ना सुना हो कि किसी बंदे ने बैठे-बिठाये लैपटॉप पर ‘Agree’ के बटन पर क्लिक करते ही अपनी सारी जायदाद गंवा दी हो। मथुरा के रहने वाले मदन सिंह के साथ ऐसा ही हादसा हुआ है।

हुआ यूं कि एक जानी-मानी मीडिया कम्पनी में कार्यरत मदन को कुछ दिनों पहले कुछ फोटोशॉप करने की ज़रूरत पड़ी। कई सारे एंड्रॉइड एप डालने के बाद भी उनका काम नहीं हुआ। फिर उसने यू-ट्यूब पर फोटोशॉप करने वाले कुछ वीडियो देखे। ढेर सारे वीडियो देखने के बाद उसने 2-4 सॉफ्टवेयर डाउनलोड करने की कोशिश की।

सभी सॉफ्टवेयर डॉलर में पेमेन्ट माँग रहे थे। फिर उसे एक फ्री सॉफ्टवेयर मिला। सॉफ्टवेयर डाउनलोड करने के बाद दनादन इंस्टाॅल कर दिया। मदन इतनी जल्दी में था कि बिना पढ़े अग्रीमेंट एक्सेप्ट कर दिया। कुछ दिन बाद कुछ लोग आकर उसे ज़बरदस्ती घर से निकालने लगे। मदन ने तुरंत पुलिस में खबर की। पुलिस के सिपाही पूरे दो दिन बाद उसके घर पहुँचे। मदन ने बताया कि ” कुछ 3-4 लोग थे बोलने लगे कि मैंने अपना घर और सारी जायदाद उनके नाम कर दी है, मेरे सवाल पूछने पर कोई जवाब नहीं दिया और मुझे धक्का मारकर अंदर चले गए और घर के कागज़ात ढूंढने लगे।”

पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली और उन लोगों को हिरासत में लिया। अपराधियों ने बताया कि मदन सिंह ने खुद ही जायदाद के कागज़ात पे साइन किया था। अपराधियों ने पुलिस को वो एग्रीमेंट दिखाया जिसे मदन ने ‘Accept’ किया था। फिलहाल पुलिस मैग्नीफाइंग ग्लास की मदद से उस एग्रीमेंट की जांच-पड़ताल कर रही है। हालाँकि मदन को अभी तक याद नहीं आ रहा है कि उसने कब और कहाँ साइन किया था।



ऐसी अन्य ख़बरें