Monday, 26th June, 2017
चलते चलते

युवक ने ठोंक-पीटकर ठीक कर लिया अपना हैंग हुआ मोबाइल, सैमसंग ने दिया 1 करोड़ का ऑफ़र

07, May 2017 By Ritesh Sinha

गुरुग्राम. टेक सिटी के होनहार युवक प्रियांशु गहलोत को सैमसंग कंपनी ने 1 करोड़ की सैलरी का ऑफर दिया है। इस ख़बर से उसके परिवार में जश्न का माहौल है। दरअसल, प्रियांशु मोबाइल रिपेयरिंग का काम करता है। अगर आपका मोबाइल अचानक हैंग हो जाए, बटन या टच स्क्रीन काम ना करे, तो कोई बात नहीं, प्रियांशु के लिए इसे ठीक करना बाएँ हाथ का खेल है। सबसे बड़ी बात ये है कि प्रियांशु, मोबाइल सुधारने के लिए न ही किसी ‘टूल’ की मदद लेता है और ना ही किसी सॉफ्टवेयर की, बल्कि वो तो अपना देसी तरीका इस्तेमाल करता है, ठोंकने-पीटने वाला।

Hang Mobile
पटकने से पहले मोबाइल को समझाता प्रियांशु

वो सबसे पहले हैंग हुए हैंडसेट को बेदर्दी से हिलाता-डुलाता है, बैटरी निकाल के फूंकता है और फिर सेट को ज़ोर से थप्पड़ मारता है। बस! इतना करने से ही अधिकांश मोबाइल लाइन में आ जाते हैं। हाँ, कभी-कभी कुछ हैंडसेट जिद्दी किस्म के होते हैं, उनको प्रियांशु सीधे टेबल पर पटककर ठीक कर देता है। यही वजह है कि उसे सैमसंग ने इतनी बड़ी सैलरी का ऑफर दिया है।

फ़ेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए प्रियांशु ने बताया कि “एक दिन मैं अपने मोबाइल में गेम खेल रहा था। गेम के बीच में ही मोबाइल हैंग हो गया, स्क्रीन फ्रीज हो गई और बटन ने भी काम करना बंद कर दिया। मुझे बहुत गुस्सा आया। पहले तो मैंने उसे हथेली पर जोर से पटका। जब वो इससे भी ठीक नहीं हुआ, तो खींचकर लगाया एक कान के नीचे! फिर क्या था! अकल ठिकाने आ गयी और काम करना चालू कर दिया।”

प्रियांशु के इस हुनर को विदेशों में भी खूब वाहावाही मिल रही है और इसे एक बहुत बड़ी खोज के रूप में देखा जा रहा है। हालाँकि, कुछ लोग प्रियांशु की आलोचना भी कर रहे हैं और सैमसंग के ऑफ़र को फ्रॉड बता रहे हैं। उनका कहना है कि “शायद सैमसंग वालों को इंडिया के बारे में कुछ मालूम नहीं है। यहां तो सब अपने हैंग मोबाइलों को ऐसे ही ठीक करते हैं, इसमें नया क्या है?”



ऐसी अन्य ख़बरें