Wednesday, 20th September, 2017

चलते चलते

पुराने 'पनामा पेपर्स' से कंपोस्ट बनाना सिखाएंगे अमिताभ, 'मेक इन इंडिया' में देंगे योगदान

28, Jul 2017 By बगुला भगत

मुंबई. सर्दी के महानायक अमिताभ बच्चन ने कंपोस्ट खाद बनाने की एक नयी विधि का ईजाद किया है। इस विधि में वो पुराने पेपर्स, फलों और सब्ज़ियों के छिलकों का प्रयोग करते हैं। अब वो ‘मेक इन इंडिया’ और ‘कौशल भारत’ अभियान के तहत देश भर में इस विधि से कंपोस्ट बनाना सिखाएंगे।

amitabh-compost1
पनामा पेपर्स से कंपोस्ट बनाना सिखाते अमिताभ

आज दोपहर अपने बंगले प्रतीक्षा में मीडिया और प्रशंसकों के सामने अमिताभ ने इस कंपोस्ट विधि का प्रदर्शन किया। उन्होंने कुछ पुराने पेपर्स, जो किसी चीज़ के लीक दस्तावेज लग रहे थे, को एक-एक करके फाड़कर टोकरी में डाला और उन्हें फलों-सब्ज़ियों के छिलकों के साथ मिलाया। फिर उनके ऊपर थोड़ा सा पानी और नमक डालकर अच्छी तरह हिलाया-डुलाया और खाद बना दिया।

फिर वो अपने हाथ झाड़ते हुए बोले कि “लीजिये, कंपोस्ट तैयार! इस खाद से आप जैसी चाहें, वैसी फसल उगा सकते हैं। मैं गारंटी देता हूँ कि बहुत अच्छी फसल होगी, जिसे काटकर और अच्छे दामों पर बेचकर आप धन और ऐश्वर्य दोनों कमा सकते हैं।”

इसके बाद उन्होंने एक किताब खोली और उसमें से एक श्लोक पढ़ा- “मतिमान्न धनार्जनाय, घोटालानाम् रक्षाये च। बालकानां प्रोग्रेसेय च, कंपोस्टम् उत्पन्नकरायेत॥” फिर उसका अर्थ समझाते हुए बोले, “अर्थात- बुद्धिमान व्यक्ति धन की वृद्धि, घोटालों से सुरक्षा, घर की सुख-शांति और बच्चों की प्रगति के लिये कंपोस्ट अपनाये॥”

इस प्रदर्शन के अवसर पर अमिताभ के साथ बॉलीवुड के एक और बड़े सितारे अजय देवगन भी मौजूद थे। देवगन ने भी दर्शकों के सामने अपने ‘विमल-कौशल’ द्वारा बदबू-रहित कंपोस्ट का प्रदर्शन किया। उन्होंने पेपर्स को फाड़कर मिट्टी में मिलाते हुए कहा कि “इसमें केसर-कत्था और सुपारी मिलाकर आप इस खाद को सुगंधित भी बना सकते हैं।”

फिर उन्होंने दर्शकों को हैरान करते हुए उसमें से एक चुटकी ली और पान मसाले की तरह अपने मुँह में डाली और आँखों की तरफ़ दो उंगलियाँ करते हुए बोले, “और चाहें तो इसे खा भी सकते हैं! खाकर बोलो ज़ुबाँ कंपोस्टी!”



ऐसी अन्य ख़बरें