Tuesday, 25th July, 2017
चलते चलते

भारत-वेस्टइंडीज़ की वनडे सीरीज़ देखने वाले युवक को बेरोज़गारी भत्ता देगी सरकार

03, Jul 2017 By बगुला भगत

ग़ाज़ियाबाद. भारत और वेस्टइंडीज़ के बीच चल रही वनडे सीरीज़ को देखने वाले एक युवक को सरकार ने बेरोज़गारी भत्ता देने का एलान किया है। सुशील तिवारी नामक यह यवुक इंदिरापुरम के न्याय खंड का रहने वाला बताया जा रहा है और ज़्यादातर समय घर पर ही पड़ा रहता है। हालांकि, कुछ लोगों का कहना है कि वो किसी सरकारी विभाग में नौकरी करता है।

Watching Match1
भारत-वेस्टइंडीज़ का वनडे देखता सुशील

केंद्रीय श्रम एवं रोज़गार मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने यह एलान करते हुए कहा कि “प्रधानमंत्री आपदा राहत कोष से सुशील को 5 लाख रुपये की मदद दी जाएगी। हम उसे मनरेगा में काम भी दिलाएंगे।”

“जिस सीरीज़ को कोई स्टेडियम में देखने को तैयार नहीं हैं, जिसे सिर्फ़ दोनों टीमों के एक्स्ट्रा प्लेयर, कमेंटेटर और दो-चार चिप्स-कुरकुरे वाले देख रहे हैं, ये बंदा उसे घर पे बैठ के देख रहा है। इससे ज़्यादा बुरे दिन और क्या होंगे बेचारे के!” -कहकर बंडारू ‘च्च्च…च्च्च’ करने लगे।

“इन मैचों को तो प्लेयर्स के परिवार वाले भी नहीं देख रहे। धोनी की पत्नी साक्षी भी अपने पति की कछुए जैसी बैटिंग देखने के बजाय उस टाइम पे ‘नागिन’ सीरियल देखती है।” -बंडारू ने हँसते हुए कहा। सरकार के अलावा, सुशील के ससुराल वाले भी उसे कोई काम-धंधा शुरु करने के लिये पैसे देने को तैयार हैं।

सूत्रों के मुताबिक, सुशील की पत्नी ममता ने रात को ही फ़ोन करके अपने मायके वालों को इस घटना की जानकारी दे दी थी। वो फ़ोन पर रोने लगी तो पापा ने पूछा- “क्या वो मारपीट कर रहा है?” “नहीं!” -ममता बोली। “तो क्या फिर से पीने लगा है?” -पापा ने ग़ुस्से में पूछा। “नहीं पापा, वो बात नहीं है!” -ममता रुंधे गले से बोली। “तो फिर क्या हुआ, तू रो क्यों रही है?” -पापा चिल्ला उठे।

“ये वेस्टइंडीज़ वाला वनडे मैच देख…!” -कहते कहते ममता की बीच में ही रुलाई छूट पड़ी। यह सुनते ही मायके में कोहराम मच गया। वे लोग आधी रात को ही गाड़ी लेकर इंदिरापुरम के लिये निकल पड़े।

फ़ेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए ममता ने कहा कि “हम तो किसी को मुँह दिखाने के लायक नहीं रहे भाईसाब! पूरा मोहल्ला ताने मार रहा है। लोग हमें वेस्टइंडीज़-वेस्टइंडीज कहकर चिढ़ा रहे हैं!”

उधर, कांग्रेस ने इस मुद्दे को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोल दिया है। पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि “हमारी सरकार के टाइम में लोग इतने बिज़ी थे कि ऑस्ट्रेलिया वाले मैच देखने की भी फ़ुर्सत नहीं थी और मोदी जी के राज में लोग वेस्टइंडीज़ के मैच भी देख रहे हैं। क्या यही हैं अच्छे दिन?”



ऐसी अन्य ख़बरें