Saturday, 21st October, 2017

चलते चलते

फ़ाइनल हारने के बाद पांड्या ने दबाया जड़ेजा का गला, पढ़िए टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम का पूरा विवरण

19, Jun 2017 By बगुला भगत

लंदन. चैंपियंस ट्रॉफ़ी के फ़ाइनल में पाकिस्तान से दुर्गति कराने के बाद टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम में खिलाड़ियों में भयंकर झड़प हुई। यह पूरी घटना फ़ेकिंग न्यूज़ के ख़ुफ़िया कैमरे में रिकॉर्ड हो गयी, पेश है पूरा ब्यौरा-

Kohli2
हार के बाद ड्रेसिंग रूम की ओर बढ़ते विराट और रोहित

(टीम के बाक़ी खिलाड़ी जब ड्रेसिंग रूम में पहुंचते हैं तो हार्दिक पांड्या, रवीन्द्र जडेजा का गला दबा रहा होता है, कोहली दौड़कर छुड़ाने की कोशिश करते हैं)

विराटः छोड़ पांड्या…मैं कह रहा हूँ छोड़ दे इसे!

पांड्याः नहीं भाई, आज नहीं छोड़ूंगा इसे!

जड़ेजाः धोनी भाई बचाओ…बचाओ!

कोहलीः अबे धोनी के अलावा भी कभी किसी को याद कर लिया कर साले! कैप्टन वो नहीं मैं हूँ अब!

जड़ेजाः कोहली भाई बचाओ…बचाओ!

युवराजः अबे मर जाएगा ये…छोड़ दे पांड्या…तेरा गुजराती भाई है!

पांड्याः भाई, मेरी पहली सेंचुरी हो जाती…इस कंजर की वजह से आज…पहले तो साले ने बॉलिंग में मरवाया… (गाली देता हुआ गला छोड़ देता है)

जड़ेजा (खाँसते हुए): तू क्या घंटा उखाड़ लेता, जीतते हम फिर भी नहीं…

रोहितः कोई नहीं! किसी-किसी मैच में हो जाता है।

विराटः ओ टेलेंट के बाप! ये फ़ाइनल में ही होना था क्या @%$#? अंडा हग दिया पिच पे तूने! फ़ाइनल हरवा दिया साले #@$…

रोहितः और तूने कौन सा तीर मार लिया! बोल…

शिखरः बात तो सही कह रहे हैं शर्मा जी…

विराटः तो मेरे बाद वालों ने क्या कर लिया, साले सब के सब @#%$…

युवराजः जब 33 पे 3 हो जायेंगे तो बाद वाले क्या ‘जान’ मराएंगे!

विराटः बुरा मत मानना युवी भाई, लेकिन कैंसर के नाम पे बहुत खेल लिये आप, अब हम पे मेहरबानी करो!

युवराजः सोच ले! अगर मेरे डैड को पता चल गया तो तेरा वो हाल करेंगे, यक़ीन नहीं है तो धोनी से पूछ ले नहीं तो…

रोहितः कोई नहीं यार! आज उनका दिन था…

शिखरः ‘बैट्समैन ऑफ़ द सीरीज़’ तो मैं ही हूँ भाई!

धोनीः इस सीरीज़ को अपनी जाँघ में डाल ले!

अश्विनः वो कल का लौंडा फख़र, हमारे मुँह पे मूत के चला गया!

बुमराहः उसे तो आउट कर दिया था मैंने, वो तो साली नो बॉल ही गयी…नहीं तो…

धोनीः तो उसके बाद क्या बॉल फेंकना ही भूल गया था तू! वो तेरी खाल में भूसा भर रहे थे…

पांड्याः रन तो बनते नहीं हैं किसी से, बस जीभ चलाना जानते हैं साले…

विराटः साले, तू तो मुझसे भी ज़्यादा गाली दे रहा है…अगला कैप्टन तू ही बनेगा।

धोनीः बस 20-25 रन कम रह गये, नहीं तो मैं…

जाधवः 20-25 नहीं अंकल, 150 रन कम रह गये!

पांड्याः आपके हेलीकॉप्टर का तेल ख़त्म हो गया है, अब लैंड कर जाओ राँची में और चैन से मज़ा लो..

कोहलीः बच्चे सही कह रहे हैं धोनी अंकल, अब बुढ़ापे में क्यूँ फ़ज़ीहत करा रहे हो अपनी। ठीक-ठाक पैसे पीट लिये हैं, आराम से घर पे बैठ के मज़े लो।

धोनीः तू भी अंकल बोल रहा है बे! बाल सफ़ेद क्या हो गये…

बुमराहः श्श्श…कोच साब आ रहे हैं!

विराटः ये नहीं छोड़ेगा आज, अब जम के लेगा मेरी…

(यह कहकर विराट मोबाइल पे बात करने का बहाना करके साइड में चले जाते हैं, दूसरे प्लेयर्स भी इधर-उधर निकल लेते हैं)



ऐसी अन्य ख़बरें