Sunday, 19th November, 2017

चलते चलते

"अगले मैच में कोहली दोनों टीमों की तरफ़ से बैटिंग करेगा, नहीं तो हम नहीं खेलेंगे" -उपुल थरंगा

04, Sep 2017 By बगुला भगत

कोलंबो. पहले टेस्ट सीरीज़ और अब वनडे सीरीज़ में सूपड़ा साफ़ होने के बाद श्रीलंकाई टीम की हालत कांग्रेस से भी बुरी हो गयी है। पिछले डेढ़ महीने से पिटे जा रही श्रीलंकाई टीम ने अगला मैच खेलने से पहले बड़ी अजीबो-ग़रीब शर्त रख दी है। छह सितंबर को होने वाले टी-20 मैच से पहले उसने मांग रखी है कि “विराट कोहली दोनों टीमों की तरफ़ से बैटिंग करेगा, नहीं तो हम मैच नहीं खेलेंगे। और अगर ऐसा नहीं करते तो फिर कोहली को बाहर कर दो!”

Kohli15
“भाई अब हमारी तरफ़ से भी खेलेगा!”

इससे पहले, एक बार को तो श्रीलंका के खिलाड़ियों ने मैच खेलने से ही मना कर दिया था। उनका कहना था कि इन्हें ये टी-20 की ट्रॉफ़ी दो और यहाँ से दफ़ा करो। टीम के एक प्लेयर ने नाम ना छापने की शर्त पर फ़ेकिंग न्यूज़ से कहा कि “सारा दिन मैदान पे जान मराने से अच्छा है कि हम इंडिया को ऐसे ही जिता दें!”

“ये डिमांड कुछ ज़्यादा अजीब नहीं हो गयी?” -फ़ेकिंग न्यूज़ के इस सवाल पर उस प्लेयर ने कंधे उचकाते हुए कहा- “इसमें कौन सी अजीब बात है? बचपन में हम ऐसे ही तो खेलते थे! जो सबसे मजबूत प्लेयर होता था, वो दोनों टीमों की तरफ़ से खेलता था। खेलता था कि नहीं?” इसके जवाब में टीम इंडिया के उपकप्तान रोहित शर्मा का बयान आया है कि “अगर हम पांच खिलाड़ी भी खेलेंगे तो इन लंका वालों को तो तब भी हरा देंगे!”

उधर, श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला श्रीसेना ने भी इस बारे में प्रधानमंत्री मोदी से बात की है। मित्रपाला ने मोदी जी को दोनों देशों के सदियों पुराने संबंधों का भी हवाला दिया। उन्होंने कहा कि “रामायण काल से ही हमारे-आपके घनिष्ठ संबंध रहे हैं। वो एक मैच की वजह से ख़राब नहीं होने चाहिये।” इस पर मोदी जी ने कहा कि “मित्र मित्रपाला, मैं इस समय फ़्लाइट में हूँ, चीन पहुँचकर आपको कॉल करता हूँ।” तब से मित्रपाला उनकी कॉल का इंतज़ार कर रहे हैं।



ऐसी अन्य ख़बरें