Wednesday, 26th July, 2017
चलते चलते

जानिये, पाकिस्तान का कोई भी खिलाड़ी ओलंपिक के लिये क्वालिफाई क्यों नहीं कर पाया

08, Aug 2016 By Ritesh Sinha

इस्लामाबाद. जैसा कि आप जानते हैं कि पाकिस्तान का कोई भी खिलाड़ी ओलंपिक में भाग नहीं ले रहा है, लेकिन आप ये नहीं जानते होंगे कि आखिर वहां के खिलाड़ी ओलंपिक के लिए क्वालीफाई क्यों नहीं कर पाए। हम आपको बताते हैं कि क्यों एक भी पाकिस्तानी प्लेयर ओलंपिक का टिकट हासिल नहीं कर पाया। दरअसल खिलाड़ियों की तैयारी में ही भारी गड़बड़ियाँ थीं, आप ही देखियेः-

Pakistan's flag bearer
पीटीवी पर दिखायी जा रही पिछले ओलंपिक की रिकॉर्डिंग

400 मीटर रेस- जो युवक 400 मीटर रेस की तैयारी कर रहा था वो सुबह उठकर रोज़ 400 मीटर भागता था, एक दिन भागते समय उसका पैर ट्रैक से तीन फीट बाहर पड़ गया और लैंडमाइंस की चपेट में आकर उसने ऊंची कूद लगा दी और दौड़ से बाहर हो गया।

निशानेबाजी- जो युवक निशानेबाजी की तैयारी कर रहे थे वे सभी अपनी अपनी राइफल लेकर भाग गए, जिनका पता अभी तक नहीं चल पाया है।

तैराकी- जो युवक तैराकी का प्रशिक्षण ले रहा था उसने तीन महीने तक तो जमकर मेहनत की, लेकिन थोडा सा सीखने के बाद उसने झेलम नदी में छलांग लगा दी। विशेषज्ञों का मानना है कि उस युवक की पोस्टिंग अब भारत में हो गई है।

गोला फेंक- जो युवक गोला फ़ेंक और भाला फ़ेंक की तैयारी कर रहे थे, वे डेप्युटेशन पर कुछ दिन के लिये पत्थर फेंकने कश्मीर गये हुए थे। जहां एक दिन अचानक उनकी भेंट भारतीय सेना के जवानों से हो गयी। नतीजतन अब वे श्रीनगर की जेल में दाल में से कंकड़ बीन रहे हैं।

कुश्ती- कुश्ती की तैयारी बहुत सारे युवक कर रहे थे। पाकिस्तान सरकार ने पौष्टिक भोजन का खर्च उठाने के लिए अमेरिका से आर्थिक मदद मांगी थी, जिसे अमेरिका ने ठुकरा दिया। इस वजह से वे सब कुपोषण की चपेट में आ गए और अब घर पे बैठे लूडो खेल रहे हैं।

वेटलिफ्टिंग- जो युवक वेटलिफ्टिंग की तैयारी कर रहा था, उसके पड़ोसी के घर में बम फट गया, जिससे उसका घर भी भरभराकर गिर पड़ा। आजकल वो दिनभर अपने घर का मलबा उठाता रहता है, इसलिए उसके पास वजन उठाने के लिए समय ही नहीं बचा।

इसके अलावा और जो भी खेल बच गए थे वे सभी काफी महंगे हैं, जिसका खर्च पाकिस्तान नहीं उठा सकता।



ऐसी अन्य ख़बरें