Saturday, 21st October, 2017

चलते चलते

फ़िक्सिंग के रेट 'फ़िक्स' करेगा PCB, नीलामी में खुली बोली लगाएंगे बुकीज

16, Feb 2017 By बगुला भगत

दुबई/लाहौर. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) अपने खिलाड़ियों के बार-बार फ़िक्सिंग में पकड़े जाने से बेहद शर्मिंदा है। कुछ दिन पहले नासिर जमशेद और मोहम्मद इरफ़ान पकड़े गये थे, अब शरजील ख़ान और ख़ालिद लतीफ़ का भी नाम आ गया। पीसीबी के अधिकारियों का कहना है कि “ये फ़िक्सिंग 10 रुपये की करते हैं और बदनामी 100 रुपये की करा देते हैं।”

PSL Fixing2
मैच फ़िक्सिंग के नियमों का एलान करते शहरयार ख़ाँ

पीसीबी के चेयरमैन शहरयार ख़ान ने आनन-फानन में बुलाई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि “इन खिलाड़ियों ने तो हमें कहीं मुंह दिखाने लायक नहीं छोड़ा। जब देखो तब पकड़े जाते रहते हैं। कोई काम भी ढंग में नहीं कर सकते ये चू#%$!”

“नासिर जमशेद 15 लाख में फ़िक्स करता है तो शरजील 10 में ही कर लेता है। यानि रेट में कोई समानता ही नहीं है और ना आपस में कोई तालमेल है। जिसकी जो मर्ज़ी, उतने में सेटिंग कर रहा है। हमें फ़िक्सिंग के रेटों में पारदर्शिता लाने की ज़रूरत है।”

फिर वो अपना माथा पीटते हुए बोले- “और हमारे कुछ खिलाड़ी तो इतने बुद्धू हैं कि उन्हें फ़िक्सिंग और स्पॉट फ़िक्सिंग का फ़र्क ही नहीं पता। ऐसे प्लेयर्स को हम ज़रूरी ट्रेनिंग दिलाएंगे। हम ये भी पता लगाएंगे कि ये सटोरिये हमारे कुछ प्लेयर्स से संपर्क क्यों नहीं करते। ऐसे ग़रीब खिलाड़ियों को बोर्ड अपने खर्चे पर फ़िक्सिंग का कोर्स कराएगा।”

“जैसे इंडिया के आईपीएल में प्लेयर्स की नीलामी होती है, वैसे ही हमारे यहां फ़िक्सिंग के लिये नीलामी होगी। आज से ‘पाकिस्तान सुपर लीग’ का नाम बदलकर ‘पाकिस्तान सट्टा लीग’ हो जायेगा लेकिन शॉर्ट फ़ॉर्म वही रहेगी…PSL!” -उन्होंने आगे कहा।

“और टीमों को नाम भी ‘कराची किंग्स स्क्वॉड’ और ‘लाहौर क़लंदर्स स्क्वॉड’ जैसे नहीं रहेंगे। अब इनके नाम हो जाएंगे ‘कराची जुआरी गैंग’…’लाहौर मटका…” – वो यह सब बता ही रहे थे कि तभी बोर्ड के एक अधिकारी का दुबई से फ़ोन आ गया, उसने बताया कि आज दो प्लेयर और पकड़े गये। यह सुनकर शहरयार साब गालियाँ बकने लगे और प्रेस कॉन्फ्रेंस छोड़कर चले गये।



ऐसी अन्य ख़बरें