Sunday, 22nd April, 2018

चलते चलते

मुबंई इंडियंस के अगले मैच में प्लेयर्स के बजाय उसके कोच और मेंटर खेलेंगे, BCCI ने दी परमिशन

16, Apr 2018 By बगुला भगत

एजेंसी. पिछले साल की चैंपियन मुंबई इंडियंस की इस बार आईपीएल में बहुत ख़राब शुरुआत हुई है। तीन IPL ख़िताब अपने नाम कर चुकी मुंबई की टीम अभी तक अपने तीनों मैच हार चुकी है। ना कप्तान रोहित शर्मा कोई मैच जिता पा रहे हैं, ना हार्दिक पांड्या और ना भीमकाय कीरोन पोलार्ड! मजबूर होकर अब उसके कोचिंग स्टाफ़ ने मैदान पर उतरने का फ़ैसला किया है।

Mumbai Indians Coaches2
“क्या शॉट खेल रहा है ये शर्मा का पट्ठा!”

ग़ौरतलब है कि मुंबई इंडियंस की टीम के पास इतने कोच हैं कि वे सारे एक बस में भी नहीं आ पाते, इसलिए मजबूरी में उनके लिये 2-2 बसें करनी पड़ती हैं। हालत ये है कि प्लेयर्स के लिए जहाँ होटल में पंद्रह कमरे बुक होते हैं तो वहीं कोचों के लिए तीस!

ये है मुंबई के कोचिंग स्टाफ़ की बारातः सचिन तेंदुलकर- मेंटर, महेला जयवर्द्धने- हेड कोच, पारस म्हाम्ब्रे- असिस्टेंट कोच, रॉबिन सिंह- बैटिंग कोच, शेन बॉन्ड- बॉलिंग कोच, लसिथ मलिंगा- बॉलिंग मेंटर, जेम्स पेमेंट- फ़ील्डिंग कोच, राहुल साँघवी- टीम मैनेजर! इनके अलावा, फ़िजियोथेरेपिस्ट और मसाज वाले 7 लोग और हैं। यानि कोचों की यह लिस्ट उसके प्लेयर्स की लिस्ट पर भी भारी पड़ रही है!

उधर, बीसीसीआई ने भी एक चौंकाने वाला फ़ैसला लेते हुए कोचों की इस टीम को खेलने की परमिशन दे दी है। इस तरह मुंबई इंडियंस आईपीएल में पहली टीम होगी, जिसके मैच में खिलाड़ियों के बजाय कोच खेलेंगे। यह सुनते ही मुंबई इंडियंस के प्रशंसक सड़कों पर उतर आये हैं और उन्होंने ख़ुशी में पटाखे फोड़ने चालू कर दिये हैं क्योंकि उन्हें एक बार फिर सचिन तेंदुलकर की बैटिंग देखने को जो मिलेगी।

लेकिन दिल्ली डेयरडेविल्स के कोच रिकी पॉन्टिंग (जो पिछले साल तक मुंबई इंडियंस के कोच थे) का इस बारे में कहना है कि “अगर उसके कोचों में इतना ही दम होता तो वे अपने प्लेयर्स को खेलना ना सिखा देते! कोई बात नहीं, आने दो उन्हें! अगर मेरे लड़कों ने इन बुड्ढों को 10 ओवर में आउट ना कर दिया तो मेरा नाम भी पोन्टिंग नहीं!”



ऐसी अन्य ख़बरें