Monday, 24th July, 2017
चलते चलते

"धोनी ने अब तक नहीं किया ट्रांसफ़र ऑफ़ पावर"- कोहली ने लगाया आरोप

23, Jan 2017 By Ritesh Sinha

कोलकाता/मुंबई. कुछ दिनों पहले धोनी ने अचानक कप्तानी छोड़ने का एलान कर दिया और टीम इंडिया की कमान विराट कोहली को सौंप दी गई। भले ही इंग्लैंड के खिलाफ कोहली को कप्तानी मिल गई हो, लेकिन मैदान मे धोनी ही ज्यादा एक्टिव नजर आ रहे हैं। धोनी को फील्डरों को इधर-उधर करते और बॉलर से लगातार बात करते हुए देखा जा सकता है। इस बीच विराट कोहली ने अब जाकर खुलासा किया है कि धोनी ने अब तक उन्हें ट्रांसफर ऑफ़ पॉवर किया ही नहीं है। कोहली ने आरोप लगाया कि धोनी उनको बहुत धीरे-धीरे किस्तों में कप्तानी सौंप रहे हैं, ठीक उसी तरह जैसे 8 नवम्बर को जीत जाने के बावजूद ट्रंप को राष्ट्रपति बनने में दो महीने लग गए।

kohli-dhoni1
“कप्तान मैं हूं और इंस्ट्रक्शन ये दे रहा है @%#$”

एक प्रेस कांफ्रेंस में कोहली ने अपना गुस्सा जाहिर करते हुए बताया कि “मैं तो सोच रहा था कि मुझे एक झटके में कप्तानी मिल जाएगी, लेकिन मैदान में तो मेरी चलती ही नहीं है। भाईसाब (धोनी) ही फील्डिंग जमा रहे हैं, भाईसाब ही गेंदबाजों को समझा रहे हैं। खासकर वो जडेजा तो मेरी बिलकुल नहीं सुनता। जब देखो तब धोनी उसे ‘जड्डू इधर डाल..जड्डू उधर डाल’ कहता रहता है। मुझे तो कोई भाव ही नहीं देता सा@$%!”

फिर ग़स्से में अपनी शर्ट की बांह चढ़ाते हुए बोले- “और भाईसाब जी रिव्यू लेते समय मेरी ओर तो बिल्कुल देखते ही नहीं। बस, अंपायर को इशारा कर देते हैं। अगर एक बार मुझ से भी पूछ लेते तो दिल को तसल्ली हो जाती कि कैप्टेन मैं हूं!, लेकिन मैदान में मेरी चलती ही कितनी है। मैं तो सिर्फ टॉस कराने जाता हूँ, बाकि सारे काम का ठेका तो भाईसाब ने ही ले रखा है।”

“सोचा था कि कप्तान बनने पर धोनी को मार्गदर्शक मंडल में डाल दूंगा लेकिन भाईसाब ने तो मुझे ही मूकदर्शक बना दिया!” -कहकर कोहली कुछ बड़बड़ाये। उनकी बगल में बैठे रवि शास्त्री ने भी ‘ट्रेसर बुलेट’ की रफ़्तार से उनकी बात का समर्थन किया। इसके बाद शास्त्री जी चालू हो गये- “ऑल थ्री रिजल्ट्स आर पॉसिबल इन दिस कैप्टेन्सी सिचुएशन…” यह सुनते ही कोहली अपने कानों पर हाथ रखकर रूम से बाहर चले गये।



ऐसी अन्य ख़बरें