Monday, 26th June, 2017
चलते चलते

भारत-पाक मैच में 20-30 रन बनाने को बेताब हैं शिखर धवन

03, Jun 2017 By Ritesh Sinha

बर्मिंघम. कल होने वाले ऐतिहासिक मैच से पहले टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज़ शिखर धवन ने फेकिंग न्यूज़ से विशेष बातचीत की है। इस बातचीत में उन्होंने बताया कि वे कल के मैच को लेकर उत्साहित हैं, और 20-30 रन बनाने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।

20-30 रन बनाने की सोचते धवन
20-30 रन बनाने की सोचते धवन

जब उनसे पूछा गया कि वे इससे आगे क्यों नहीं बढ़ पाते हैं, तो उन्होंने जवाब दिया कि “देखो! मैं अपना काम बखूबी जानता हूँ, मुझे टीम में 20-30 रन बनाने के लिए ही रखा गया है, इससे ज्यादा बनाने की मुझे इजाज़त नहीं है। मेरा काम है मैदान में जाना, बिना पैर हिलाए दो-तीन चौके लगाना, दस-बारह गेंद ‘बीट’ होना, और आउट हो जाना। ‘इंडिया 40-1’ सुनने में भी कितना अच्छा लगता है ना!” और फिर मैं जल्दी आउट होता हूँ, तभी तो दूसरे प्लेयर्स को मौका मिलता है शतक बनाने का!” -शिखर ने तर्क दिया।

“लेकिन आप से अच्छी फॉर्म में तो गौतम गंभीर हैं, फिर भी उनका सलेक्शन क्यों नहीं हुआ? आप कुछ कहना चाहेंगे?” ऐसा पूछे जाने पर शिखर धवन ने कहा कि “मैं गौतम गंभीर नाम के इंसान से ना कभी मिला हूँ, और ना ही मैं उसे जानता हूँ। मेरी बात छोड़ो! यहाँ तक कि BCCI भी उनका नाम नहीं जानती है। जिस दिन टीम चुनी जाती है, उस दिन उनके नाम की तो चर्चा ही नहीं होती, फिर मैं कैसे जानूंगा?”

“अच्छा ये बताइए! क्या कुंबले और कोहली आपस में लड़ते हैं?” यह प्रश्न सुनकर शिखर धवन सकपका गए और अपने आप को संभालते हुए बोले – “बिल्कुल नहीं! वे दोनों अच्छे दोस्त हैं। कोहली तो किसी से लड़ता ही नहीं, आजकल ये मीडिया वाले भी ना, कुछ भी छाप देते हैं। बागों में बहार है!”

“अच्छा ये बताइए कल का मैच कौन जीतेगा?” “अरे हम ही जीतेंगे! क्या बात करते हैं आप! मुझपे भरोसा रखिए, मैं जल्दी आउट हो जाऊंगा! पाकिस्तान की तो हम चटनी बना देंगे। हमारी टीम में टैलेंट है, दो-दो कैप्टन है, मैं हूँ, और क्या चाहिए आपको।” शिखर ऐसा कह ही रहे थे कि बैकग्राउंड से किसी के चिल्लाने की आवाज आई “चलो नेट पर पसीना बहाओ! दिन भर फोन में घुसे मत रहो!” यह सुनकर शिखर डर गए और उन्होंने फोन काट दिया।



ऐसी अन्य ख़बरें