Wednesday, 20th September, 2017

चलते चलते

"जब तक टीम की स्पॉन्सर वो चाइनीज कंपनी है, तब तक टीम में नहीं आऊँगा" -गौतम गंभीर ने खाई क़सम

23, Jul 2017 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. अपनी देशभक्ति के लिये पूरी दुनिया में विख्यात क्रिकेटर गौतम गंभीर ने बीसीसीआई को एक बार फिर तगड़ा झटका दिया है। पिछले एक साल से गंभीर को टीम में लाने की कोशिश कर रही बीसीसीआई को गंभीर ने फिर ठेंगा दिखा दिया है। उन्होंने बीसीसीआई से कहा है कि अगर मुझे टीम में लेना चाहते हो तो पहले चाइनीज माल का बहिष्कार करना होगा।

Gautam Gambhir1
गंभीरता से क़सम खाते गौतम गंभीर

पंजाबी बाग़ में एक खचाखच भरे संवाददाता सम्मेलन में यह एलान करते हुए गंभीर ने कहा कि “मेरे लिये देश पहले हैं और खेल बाद में! जब तक टीम इंडिया की स्पॉन्सर वो चाइनीज मोबाइल कंपनी ‘ओप्पो’ है, तब तक मैं टीम में नहीं आऊँगा! मैं आईपीएल वगैरह में खेल के अपना टाइम पास कर लूँगा।”

“लेकिन ओप्पो तो 2022 तक स्पॉन्सर है, तब तक आपकी उम्र नहीं निकल जाएगी?” इसके जवाब में इस खब्बू सलामी बल्लेबाज़ ने कहा कि “अगर मेरे अंदर देश के लिये खेलने का जज़्बा है तो पाँच साल तो क्या मैं दस साल बाद भी वापसी कर लूँगा!” “क्या अब आप दूसरे खिलाड़ियों से भी टीम छोड़ने की अपील करेंगे?” यह सुनकर गंभीर और भी गंभीर हो गये। फिर पूरी गंभीरता से बोले कि “उन्हें अपनी अंतर-आत्मा की आवाज़ पे फ़ैसला लेना चाहिये। मैं बस इतना ही कह सकता हूँ।” यह कहकर वो उठ खड़े हुए।

इस बीच, ख़बर मिली है कि गंभीर के ओपनिंग जोड़ीदार रहे वीरेन्द्र सहवाग भी इसी वजह से दुविधा में फंसे हुए हैं। वो भी अब टीम इंडिया के मैचों की कमेन्ट्री छोड़ने पर विचार कर रहे हैं। सहवाग का कहना है कि “जो खिलाड़ी अपनी बॉडी पे चाइनीज माल का विज्ञापन करके देश को नीचा दिखा रहे हैं, उनके खेल की तारीफ़ मैं किस मुँह से करुँ! मैं तो बड़ी उलझन में फँस गया हूँ!”



ऐसी अन्य ख़बरें