Sunday, 22nd April, 2018

चलते चलते

देश में तेज़ी से कम हो रहे हैं 'दिल्ली डेयरडेविल्स' के फैन्स, केजरीवाल सरकार चिंतित

13, Apr 2018 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. नेशनल सैम्पल सर्वे ऑर्गेनाइजेशन (NSSO) के ताज़ा सर्वे में कुछ चौकाने वाले आंकड़े सामने आए हैं। 2018 के सर्वे से पता चला है कि अब देश में सिर्फ ढाई सौ लोग ही दिल्ली डेयरडेविल्स को सपोर्ट करते हैं। पिछले साल यह संख्या 273 थी! यानि कि एक ही साल में 23 लोगों ने अपना पाला बदल लिया है। सर्वे से यह भी पता चला है कि जब भी टीम हारती है तो दस-बीस फैंस उसी दिन ‘CSK’ की ओर भाग जाते हैं।

दिल्ली डेयरडेविल्स1
दिल्ली डेयरडेविल्स के सभी फैन्स एक ही फोटो में!

NSSO के मुख्य सर्वेकर्ता भुवन प्रसाद ने रजिस्टर खंगालते हुए बताया कि “देखिए! दिल्ली डेयरडेविल्स के बिहार में बीस, यूपी में तेरह और मध्य प्रदेश में सिर्फ आठ फैंस बचे हैं!”

“सबसे बड़े दुःख की बात तो ये है कि खुद दिल्ली में सिर्फ एक आदमी ही अब इस टीम को सपोर्ट कर रहा है! उसका नाम तो याद नहीं आ रहा.. हाँ, केजरीवाल…जैसा कुछ नाम है उस फैन का!” -उन्होंने बड़ी मुश्किल से याद करते हुए बताया।

अगर सरकार ने इस मुद्दे पर जल्दी ध्यान नहीं दिया तो वो दिन दूर नहीं, जब दिल्ली डेयरडेविल्स के फैन्स ‘बंगाल टाइगर’ और ‘काले हिरण’ से भी पहले विलुप्त हो जाएँगे!”- भुवन ने आगे बताया।

दिल्ली टीम के फैन्स इतनी तेज़ी से कम क्यों हो रहे हैं? इसका जवाब जानने के लिए हमने बहुत सारे एक्सपर्ट्स से बातचीत की। कपिल देव नाम के एक्सपर्ट ने बताया कि “देखिए! फैन्स कम तो नहीं हो रहे हैं, लेकिन विलुप्ति के कगार पर जरूर खड़े हैं! एक तो यह टीम पॉइंट टेबल पर हमेशा नीचे रहती है, इस वजह से भी कई फैंस बिदक जाते हैं! कुछ लोगों को उनकी जर्सी पसंद नहीं आती इसलिए भी वे दिल्ली टीम को सपोर्ट नहीं करते! ऐसे ही कई कारण हैं!”

वहीं, इस ख़बर से दिल्ली सरकार के हाथ-पाँव फूल गए हैं। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने घोषणा की है कि जो भी दिल्ली डेयरडेविल्स का नया फैन बनेगा, उसे सरकार की ओर से दो हज़ार रुपए का भत्ता दिया जाएगा। इसके अलावा उसके घर स्कूटर से फ्री में राशन भी पहुँचाया जाएगा।



ऐसी अन्य ख़बरें