Thursday, 24th August, 2017

चलते चलते

टीम इंडिया के प्रदर्शन से दुखी बाप ने 'फ़ादर्स डे' पर बच्चों को धोया

19, Jun 2017 By बगुला भगत

मुंबई. चैंपियंस ट्रॉफ़ी के फ़ाइनल में कल भारत के शर्मनाक प्रदर्शन का ख़ामियाज़ा मायानगरी के दो मासूम बच्चों को भुगतना पड़ा। उधर लंदन में टीम इंडिया के धुरंधर पाकिस्तान से पिट रहे थे और इधर ये दोनों बच्चे ‘फ़ादर्स डे’ पर अपने ही बाप के हाथों मार खा रहे थे। क्रिकेट की वजह से फ़ादर्स डे को कलंकित करने वाले इस व्यक्ति का नाम रवीन्द्र रहाणे बताया जा रहा है।

man tv
‘फ़ादर्स डे’ पर टीम की दुर्गति देखता रवीन्द्र

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, बोरीवली (वेस्ट) इलाक़े में रहने वाले रवीन्द्र रहाणे को पूरी उम्मीद थी कि फ़ाइनल में भारत एक बार फिर पाकिस्तान को हरायेगा। इसलिये वो अपने सारे काम-धाम छोड़कर सुबह से ही मैच देखने का प्रोग्राम बनाये बैठा था। मैच शुरु होने से तीन घंटे पहले ही उसने स्टार स्पोर्ट्स लगा लिया था और एक्सपर्ट्स का ज्ञान बटोर रहा था। लेकिन अचानक बॉस का फ़ोन आ गया और उसे संडे के दिन भी ऑफ़िस जाना पड़ा। वो दौड़-भागकर ऑफ़िस से वापस घर लौटा लेकिन घर में क़दम रखते ही उस पे आसमान टूट पड़ा।

उसकी टीवी पे नज़र पड़ी- भारत का स्कोर 33 रन पे 3 विकेट! रोहित, शिखर और कोहली तीनों पवेलियन लौट चुके थे। थोड़ी ही देर में युवराज और धोनी भी चलते बने। इन सारे धुरंधरों का जुलूस निकलता देखकर उसका पारा सातवें आसमान पर पहुँच गया। तभी अंदर से उसके बच्चे ‘फ़ादर्स डे’ का ग्रीटिंग कार्ड और केक लेकर दौड़ते हुए आये और ‘हैप्पी फ़ादर्स डे’ बोलते हुए उससे लिपट गये। वो उन्हें छिटकते हुए चिल्लाया- “एक तरफ़ हटो…भागो यहाँ से!”

“तुम्हें फ़ादर्स डे की पड़ी है, वहाँ टीम की ऐसी-तैसी हुई पड़ी है!” -कहते हुए उसने बच्चों को एक-एक चपत लगा दी। उसकी पत्नी सारिका जब बीच-बचाव करने आयीं तो रवीन्द्र ने उसे भी बहुत भला-बुरा कहा।

इस घटना के बाद से ही सारिका प्लेयर्स को कोसे जा रही हैं। उन्हें लगता है कि उनके बच्चों की कुटाई की वजह ये घटिया प्लेयर ही हैं। सबसे ज़्यादा गालियाँ कोहली और धोनी के हिस्से में आयी हैं क्योंकि सारिका को इन्हीं दोनों का नाम ढंग से मालूम है। उन्हें लगता है कि जब भी वे गंदा खेलते हैं, तभी उनके घर की सुख-शांति बर्बाद हो जाती है। बेचारे हरभजन को भी फालतू में ही कुछ गालियाँ पड़ गयीं, जबकि वो बेचारा तो कब से टीम से बाहर है।



ऐसी अन्य ख़बरें