Sunday, 22nd April, 2018

चलते चलते

बॉल टैंपरिंग विवादः ऑस्ट्रेलिया और द. अफ़्रीका के प्लेयर अब बिना पैंट के ही खेलेंगे

01, Apr 2018 By Guest Patrakar

जोहानिसबर्ग. बॉल टैम्परिंग मामले में रोज़ नए-नए मोड़ आ रहे हैं, जो मैदान के बाहर की गतिविधियों को मैदान के अंदर की गतिविधियों से ज़्यादा दिलचस्प बना रहे हैं। अब ICC ने एक ऐसा फ़ैसला किया है, जिसकी किसी को सपने में भी उम्मीद ना थी!

Aussie Players
मैदान पर बिना पैंट के खड़े कंगारू

कल शाम आईसीसी ने अपना फ़ैसला सुनाते हुए कहा कि दक्षिण अफ़्रीका और ऑस्ट्रेलिया के चौथे टेस्ट में अब खिलाड़ी बिना पैंट के ही खेलेंगे। आईसीसी के प्रवक्ता गैरी शर्मा ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि “वैसे तो इस मैच में दो दिन का खेल हो चुका है लेकिन फिर भी हमने विवाद से बचने के लिए फ़ैसला लिया है कि बचे हुए मैच में सारे प्लेयर बिना पैंट के ही खेलेंगे! ना रहेगी पैंट और ना छुपाएँगे सैंडपेपर!”

“अगर इसके बाद भी खिलाड़ी नहीं सुधरे तो हम उनके पूरे कपड़े उतरवाने में भी नहीं हिचकिचाएँगे!” -गैरी जी ने प्लेयर्स को गरियाते हुए कहा।

हमने इसके बारे में पूर्व पाकिस्तानी कप्तान और धुआँधार बल्लेबाज़ शाहिद अफ़रीदी से भी बात की। शाहिद ने कहा, “यह बहुत अफ़सोस की बात है कि ICC ऐसे रूल्स लेकर आ रही है। मैं कभी भी बॉल टैम्परिंग के हित में नहीं था मगर क्या करें, करना पड़ता था। पर मैं खुदा का शुक्रिया अदा करता हूँ कि हमारे समय में  ऐसे कैमरा नहीं होते थे, वरना हम तो रोज़-रोज़ फँसते! हालाँकि बिना पैंट के खेलने के बाद खिलाड़ी क्रिकेट तो छोड़ो, किसी और बॉल से भी छेड़खानी करने से डरेंगे।”

वैसे यह मामला यहीं नहीं रुका। बॉल टैम्परिंग कांड ने भारत में सियासी रूप ले लिया है। बॉल टैम्परिंग पर टिप्पणी करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, “यह तमाचा है उन लोगों पर जो पूछते हैं कि मैं दिल्ली में CCTV क्यूँ नहीं लगवाता। अब आप ही देख लीजिए कैमरा कितना ख़तरनाक हो सकता है। यह कैमरा ही था जिसकी वजह से अब खिलाड़ियों की पैंट उतरने की नौबत आ गयी है। और हम नहीं चाहते कि दिल्ली में किसी को पैंट उतारनी पड़े, इसलिए हम तो बिना कैमरे के ही ठीक हैं जी!”



ऐसी अन्य ख़बरें