Sunday, 22nd April, 2018

चलते चलते

माँ-बाप ने दिए हैं अच्छे संस्कार, सिगरेट का धुआँ छोड़ने सबसे दूर जाता है युवक

01, Apr 2018 By Ritesh Sinha

रायपुर. अवंती विहार में रहने वाले मनोज साहू की उसके माँ-बाप ने बड़ी अच्छी परवरिश की है और उसे बड़े अच्छे संस्कार दिए हैं। इन्ही संस्कारों का असर है कि आज मनोज पच्चीस साल का हो गया है और जब भी सिगरेट फूँकता है, लोगों से दूर जाकर ही धुआँ छोड़ता है। आज तक उसने कभी भी सामने बैठे बन्दे के मुँह पर धुआँ नहीं छोड़ा। अपनी इसी क्वालिटी की वजह से मनोज की सब तारीफ भी करते हैं।

सिगरेट6
पब्लिक के सामने ऐसी हरकत नहीं करता मनोज

फ़ेकिंग न्यूज़ से बातचीत करते हुए मनोज ने बताया कि “हमें शर्म आनी चाहिए, हमारी वजह से अच्छे खासे लोग उठकर चले जाते हैं, क्योंकि उन्हें सिगरेट का धुआँ सहन नहीं होता! लेकिन मैं ऐसा नहीं हूँ! मैं हमेशा एकांत में जाकर ही सिगरेट सुलगाता हूँ, ताकि किसी को परेशानी ना हो!”

“अब देखो ना, कल की ही बात है! ऑफिस में जब मैं वाशरूम गया तो वहाँ पहले से तीन लोग मौजूद थे, मैंने लाइटर को हाथ भी नहीं लगाया भाईसाब! मैं सीधे खिड़की से कूदकर बिल्डिंग के पीछे चला गया! वहां भी दो लोग गप्पे मार रहे थे! वहां भी मैंने अपने आपको रोक लिया! इसके बाद मैं दो गंदे नाले पार करके एक सुनसान जगह पर पहुंचा। जब देखा कि आसपास कोई नहीं है, तब जाकर मैंने इस घटना को अंजाम दिया!” -कहते हुए मनोज का सर गर्व से ऊँचा हो गया।

“यह मैनर आप में आया कहाँ से? आप किनको क्रेडिट देना चाहेंगे?” -ऐसा पूछे जाने पर मनोज ने बताया कि “देखिए! इसका पूरा क्रेडिट मेरे पैरेंट्स को जाता है, जिन्होंने मुझे सिखाया कि सामने वाले की इज्ज़त करना चाहिए! आप तो जानते ही हैं कि सिगरेट का धुआँ उसी ओर जाता है, जहाँ दो-चार लोग बैठे हुए हों! यही वजह है कि आज भी मैं खोपचे पे जाकर ही सिगरेट पीता हूँ! आज तक किसी को टेंशन नहीं दिया मैंने!”



ऐसी अन्य ख़बरें