Monday, 27th February, 2017
चलते चलते

मेहँदी का रंग ना चढ़ने पर युवती ने तोड़ी सगाई

18, Aug 2016 By banneditqueen

बिलासपुर. कुछ ही महीने पहले बिलासपुर के सबसे रईस खानदान की त्रिशा भौमिक की सगाई तय हुई थी। सगाई को कवर करने के लिये पूरे बिलासपुर जिले का मीडिया भौमिक सदन के बाहर मौजूद था। सगाई का मुहूर्त 9 बजे का था। घर के बाहर मीडिया के अलावा आम लोगों की भी भीड़ थी पर 9 बजने से पहले ही पता चला कि त्रिशा ने सगाई तोड़ दी। घर का मुख्य द्वार बंद होने से कुछ पता नहीं चल पा रहा था।

Mehndi2
हाथ धोने से पहले त्रिशा की मेहंदी ऐसी दिख रही थी

फेकिंग न्यूज़ संवाददाता ने “लड़की का फूफा हूँ” बोलकर अंदर जाने के लिये कहा। दरबान ने संवाददाता का गुस्से वाला चेहरा देखकर बिना सवाल किये अंदर आने दिया। अंदर जाने के बाद सभी रिश्तेदार आपस में कानाफूसी कर रहे थे पर किसी को भी सगाई टूटने का असली कारण नहीं पता था। संवाददाता ने सोचा कि किसी तरह से दुल्हन के कमरे में Microphone लगा के वह बातें सुन सके तो कल के लिये बड़ी कवर स्टोरी बन सकती है।

संवाददाता Microphone लगाने के बाद चुपके से सारी बातें सुनने लगे। त्रिशा ज़ोर ज़ोर से अपने हाथों को देख कर रो रही थी। तभी उसकी होने वाली सास ने पूछा “क्या कमी रह गई जो तूने सगाई तोड़ दी?” त्रिशा ने रोते हुए बताया “आपका बेटा मुझसे प्यार नहीं करता, ये देखिये मेहँदी का रंग एकदम फीका आया है। आपने ही कहा था कि मेहँदी का रंग जितना चढ़ेगा पति उतना ही प्यार करता है”- त्रिशा ने हाथ आगे करते हुए दिखाया।

यह देख के सभी चिंता में आ गए। त्रिशा की सास ने मेहँदी वाली को बुला कर खूब डाँटा। त्रिशा के परिवार वाले मेहँदी का रंग ना चढ़ने से बेहद नाराज़ है। माना ये जा रहा हैं कि त्रिशा के परिवार और उसके मंगेतर के परिवार वालों के बीच 25 साल की दोस्ती में अब खटास पड़ चुकी है। वहीं बाहर मौजूद मेहमान इसी कश्मकश में लगे रहे कि अब घर जाकर खाना बनाना पड़ेगा या ऐसे माहौल में पनीर के स्वादिष्ट व्यंजनों का मज़ा यहीं लिया जाए।



ऐसी अन्य ख़बरें