Friday, 20th October, 2017

चलते चलते

थोड़ी देर के लिए बाइक ले जाकर, टंकी खाली करके लौटाने वालों को होगी 5 साल की जेल

29, Sep 2016 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. जो लोग थोड़ी देर के लिए बाइक या कार मांगकर ले जाते हैं और फिर टंकी खाली करके लौटाते हैं, ऐसे लोगों की अब ख़ैर नहीं! ऐसे ‘लीचड़’ लोगों पर सुप्रीम कोर्ट ने सख्त रूख अपनाया है। देश की सर्वोच्च अदालत ने आज एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि “यह समस्या विकराल रूप धारण कर चुकी है। अगर जल्दी ही इस पर क़ाबू नहीं पाया गया तो देश में लोग व्हीकल खरीदना बंद कर देंगे।”

Bike1
मंगती की बाइक पर मज़े करते पांडे जी

“देश ऐसे बेशर्म लोगों से भरा पड़ा है, जो बाज़ार जाने के बहाने, बीवी को स्टेशन छोड़ने के बहाने, या फिर ‘मेरी गाड़ी पंचर है’ कहकर दूसरों से बाइक या कार मांगकर ले जाते हैं और फिर बिना तेल डलवाये वापस कर जाते हैं। ऐसे लोगों को पहली बार दोषी पाये जाने पर 5 साल की सजा मिलेगी और दूसरी बार ये सज़ा डबल हो जायेगी और साथ में 20 हज़ार का जुर्माना भी!” -कोर्ट ने फ़ैसले सुनाते हुए कहा।

उधर, PIL दाखिल करने वाले पटना निवासी राकेश कुमार सिंह ने फेकिंग न्यूज़ को बताया कि “मेरा दोस्त प्रमोद पांडे अपनी बीवी को स्टेशन छोड़ने के लिए मेरी कार ले गया था, ये कहकर कि एक घंटे में आ जाएगा। साला! पूरे पांच घंटे बाद वापस आया। और जब मैं अपने काम से निकला तो घर से चलते ही गाड़ी में तेल खत्म! जी में तो आया कि साले को अभी जाकर गोली मार दूं!” कहते-कहते राकेश के नथुने फूल गये।

“लेकिन फिर मैंने सोचा कि एक पांडे को मारकर क्या होगा। पूरे देश में ऐसे भिखमंगे पांडे भरे पड़े हैं। मुझे उन सबको सबक सिखाना चाहिये। बस, यही सोचकर मैंने कोर्ट में PIL लगा दी।” -हमारे संवाददाता के मुंह में लड्डू देते हुए राकेश ने कहा।

कोर्ट के इस फ़ैसले से अब देश के वे सारे युवक खुश हैं, जिनकी बाइक उनके दोस्त हर रोज़ मांगकर ले जाते हैं और टंकी खाली करके लौटाते हैं। पटना के एक ऐसे ही युवक अंशुमान ने अपने दोस्तों की ओर इशारा करते हुए बताया कि “जिस दिन मैं पेट्रोल डलवाता हूँ, उसी दिन ये लोग मूवी चले जाते हैं। मुझे तो कभी-कभी ऐसा लगता है जैसे मैंने ये बाइक उनके लिए ही खरीदी है! चलो, ख़ैर! अब साले कम से कम तेल तो डलवायेंगे।”



ऐसी अन्य ख़बरें