Thursday, 18th January, 2018

चलते चलते

जिन्होंने एक बार से ज़्यादा पूछा- 'न्यू ईयर पे क्या प्लान है?', उन सबको होगी सज़ा

01, Jan 2018 By Guest Patrakar

एजेंसी. कुछ सवाल दिल को बहुत तकलीफ़ पहुँचाते है। जैसे- ‘बेटे इंजीनियरिंग के बाद क्या करोगे?’, ‘अच्छे दिन कब आएँगे?’ और नए साल पर अक्सर परेशान करने वाला सवाल – ‘भाई, नए साल का क्या प्लान है?’ पहले दो का तो पता नहीं लेकिन सरकार ने नए साल के प्लान वाले सवाल की समस्या को निश्चित रूप से ख़त्म करने की ठान ली है।

New Year Plan Jail
न्यू ईयर प्लान पूछने वाले युवक को ले जाती पुलिस

मानव संसाधन मंत्रालय ने कहा है कि जिन लोगों ने किसी से एक बार से अधिक ‘न्यू ईयर प्लान’ पूछा है, उसे अब जेल या 2500 रुपए का जुर्माना अथवा दोनों हो सकता है। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने यह घोषणा करते हुए कहा कि “हमें हर साल 31 दिसम्बर पर लोगों के आत्महत्या करने अथवा डिप्रेशन में जाने की कई ख़बरें मिलती है। हमने जांच कराई तो पता चला कि इसका कारण कुछ और नहीं बल्कि दूसरे लोगों का निरंतर ‘न्यू ईयर प्लान’ पूछना है। दरअसल यह मनुष्य की प्रवृत्ति है कि वह दूसरों को देख कर ईर्ष्या करता ही है। 31 दिसम्बर को हर कोई कहीं ना कहीं पार्टी कर रहा होता है। ऐसे में अगर कोई पार्टी अफ़ॉर्ड नहीं कर पाता तो वो डिप्रेशन में चला जाता है। बस इसी को रोकने के लिए हमने यह फ़ैसला लिया है।”

यह एलान होते ही लोगों में ख़ुशी की लहर फैल गई। लोगों का कहना है कि ना केवल अब हमें इस सवाल से निज़ात मिलेगी बल्कि हम सवाल पूछने वाले इंसान को जेल भिजवा उसका भी न्यू ईयर प्लान कैन्सल भी करवा सकते हैं। ऐसे ही शख़्स विनोद अग्रवाल ने फ़ेकिंग न्यूज़ से बातचीत में कहा कि “मुझे बहुत ख़ुशी है कि सरकार ने हम जैसे लड़कों के बारे में भी सोचा। मैं थक गया था लोगों को यह बोल-बोल कर कि ‘पता नहीं…पता नहीं!’ मैं पेशे से इंजीनियर हूँ। तो एक तो ग़रीब ऊपर से सिंगल। क्लबों में जा नहीं सकता क्योंकि कपल एंट्री होती है और दोस्तों के साथ हाउसपार्टी नहीं क्योंकि ग़रीब हूँ। बस ऐसे में आत्महत्या करना ही एक रास्ता बच गया था। लेकिन भला हो जावडेकर जी का, जिन्होंने यह नियम बनाकर मुझे और मेरे जैसे अन्य लोगों को आत्महत्या करने से बचा लिया।”

सूत्रों की मानें तो इस फ़ैसले के बाद प्रकाश जावडेकर “बेटा आगे का क्या प्लान है?” और “कितने परसेंट आये?” जैसे सवालों को भी प्रतिबंधित करने की सोच रहे हैं। लेकिन देखना यह होगा कि कितने लोगों ने ऐसा नियम बनने के बावजूद लोगों से उनके न्यू ईयर प्लान पूछ कर उन्हें जलाया!



ऐसी अन्य ख़बरें