Saturday, 16th December, 2017

चलते चलते

आम्रपाली इंस्टीट्यूट के बाहर वाली गुड्डू की सिगरेट की दुकान बंद, छात्रों में भारी रोष

16, Jul 2017 By Rahat

एजेंसी. बीती शाम आम्रपाली इंस्टीट्यूट के छात्रों के साथ कुछ ऐसा हो गया, जिसकी उन्हें सपने में भी उम्मीद नहीं थी। शनिवार शाम क्लास ख़त्म होते ही जब छात्र गुड्डू की सिगरेट की दुकान पर पहुंचे तो देखा कि दुकान तो बंद है! यह देख सभी छात्र तलब और ग़ुस्से से आग-बबूला हो गए और प्रशासन के ख़िलाफ़ नारेबाज़ी करने लगे।

cigarette shop
अपनी दुकान पर बैठे गुड्डू भाईसाब

तुरंत इस हंगामे की ख़बर इंस्टीट्यूट के मैनेजमेंट को दी गयी। यह बात सुनते ही मैनेजमेंट भी सकते में आ गया और आनन-फानन में इलाक़े के एमएलए को इस बात की सूचना दी गयी। सूचना मिलते ही नेता जी मौक़ा-ए-वारदात पे पहुंचे और छात्रों से शांत रहने की अपील की, साथ ही उन्हें अगले 2 घंटे में दुकान खुलवाने का आश्वासन भी दिया।

फ़ेकिंग न्यूज़ के रिपोर्टर से बातचीत में नेता जी ने बताया कि सभी भोले के भक्तों के लिए हल्द्वानी से माल मंगवाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है और हर एक भक्त को एक पैकेट रीजला पेपर देने का प्रस्ताव भी रखा गया है। छात्रों का कहना है कि उन्हें एक-एक डब्बा गोल्ड फ्लैक भी दिया जाए। हॉस्टल के छात्रों के कहना है कि एग्जाम टाइम में सुट्टे के बिना पढना असंभव है और इस दिक्कत की वजह से उनका काफी वक़्त बर्बाद भी हुआ है।

इस पर इंस्टीट्यूट के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स ने सभी हॉस्टलर्स को इंटरनल में 30-30 नंबर देने का आश्वासन दिया है। साथ ही, गुड्डू से हुए फ़ोन वार्तालाप के अनुसार दुकान एक घंटे में ही खुलवाने की बात भी कही। बताया जा रहा है कि गुड्डू शनिवार को ट्यूब लाइट देखने गए थे, जिसकी वजह से ये हादसा हुआ।

उधर, सीनियर स्टूडेंट्स का कहना है कि भविष्य में ऐसे हादसे रोकने के लिए वो एक समिति का गठन करेंगे, जिसका नाम मिल्फ़स (MILFS) यानि ‘माय इंस्टिट्यूट लव फॉर सुट्टा’ होगा। छात्र प्रवक्ता श्री मनोज वाजपेयी ने क्षेत्र के सभी नशा मुक्ति केन्द्रों को बंद करने और इस हादसे की न्यायिक जांच की मांग की है।



ऐसी अन्य ख़बरें