Saturday, 29th April, 2017
चलते चलते

टीचर द्वारा डस्टर फेंके जाने पर छात्र ने किया मैट्रिक्स स्टाइल में बचाव, बना लड़कियों का चहेता

23, Jul 2016 By Pagla Ghoda

दिल्ली. डीपीएस के छात्र नवीनप्रसाद शर्मा का नाम उसके सहपाठियों ने बदलकर नियो रख दिया है। कारण ये कि गत बुधवार जब नवीनप्रसाद अर्थात नियो को उनकी गणित की अध्यापिका श्रीमती सुजाता मिश्रा ने डस्टर फेंक कर मारा तो नवीनप्रसाद ने अपने शरीर को नब्बे डिग्री तक पीछे झुकाकर वह वार साफ बचा लिया। मौकाए वारदात पर मौजूद छात्रों के अनुसार नवीनप्रसाद का ये स्टाइल हॉलीवुड के मशहूर चलचित्र ‘मैट्रिक्स’ से मिलता जुलता था, जिसमे हीरो नियो पर जब गोलिया बरसाई गयीं तो उसने ख़ुद को उसी अंदाज़ में पीछे की और नब्बे डिग्री झुकाकर उस हमले से साफ़ बचा लिया था।

Matrix Neo
बिल्कुल इस तरह डस्टर अटैक से बचा नवीनप्रसाद

यह भी कहा जा रहा है कि इसके तुरंत बाद पूरी कक्षा में सन्नाटा छा गया और तभी एक छात्र ने धीरे धीरे ताली बजना शुरू किया, जिसके बाद पूरी कक्षा में करीब पैंतालीस सेकेंड तक लगातार तालियां बजती रहीं। कुछ छात्रों ने नियो को “स्टैंडिंग ओवेशन” देने का भी प्रयास किया पर श्रीमती सुजाता ने उन्हें स्केल से पीट पीट कर बिठा दिया।

इस विषय पर क्रोध जताते हुए श्रीमती सुजाता ने कहा, “इन बच्चों ने तो मेरा दिमाग ख़राब कर रखा है। वो नवीनप्रसाद कक्षा में शरारतें कर रहा था, लड़कियों पे लाइन मार रहा था, तो मैंने गुस्से में उस पे डस्टर दे मारा। पर इन मूर्ख लोगों ने उसे हीरो बना दिया है, उसे नियो नियो कहते फिर रहे हैं। उसके नाम के व्हाट्सएप ग्रुप और फेसबुक पेज बन रहे हैं। कल वो क्लास में एब्सेंट था तो एक छात्र मनीष ने गिड़गिड़ाते हुए कहा, मैडम मेरी एब्सेंट लगा दो पर नियो को प्रेजेंट ही लगाओ, ही इज “दी वन!” मूर्खता की सभी हदें पार कर चुके हैं ये बच्चे!”

जहाँ सभी कक्षाओं के छात्र नवीनप्रसाद “नियो” को अपना हीरो मानने लगे हैं, वहीं छात्राओं के बीच भी नियो का भाव काफी बढ़ गया है। उससे कैंटीन का बिल भरवाने वाली लड़कियां अब उसका बिल भरने लगी हैं। इसी बीच ये खबर भी आग की तरह फ़ैल चुकी है कि स्कूल की सबसे हॉट छात्रा कनिका कम्बोज, जो किसी अमीर से अमीर लड़के को भी भाव नहीं देती, उसने भी नियो की फेसबुक फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर ली है।



ऐसी अन्य ख़बरें