Saturday, 24th June, 2017
चलते चलते

रक्षाबंधन पर मोबाइल ने दिया धोख़ा, सेल्फ़ी के लिये बहन को तीन-तीन बार बांधनी पड़ी राखी

18, Aug 2016 By Ritesh Sinha

ग़ाज़ियाबाद. रावत फैमिली में सुबह से ही चहल-पहल मची हुई थी। राजू रावत नहा-धोकर तैयार हो चुका था और उसकी बहन सारिक उसे राखी बाँधने के लिए तैयार हो रही थी। तब तक राजू अपने मोबाइल से अकेले धड़ाधड़ टेस्ट सेल्फी ले रहा था। तभी उसकी मम्मी ने कहा “अरे जल्दी करो! शर्मा जी के बेटे ने अपनी सेल्फी डाल भी दी और तुम लोग हो कि अभी तक तैयार ही हो रहे हो! जल्दी करो!”

Rakhi2
तीसरी बार सेल्फ़ी की कोशिश करते राजू और सारिका

मम्मी को चिल्लाता देख सारिका दौड़ते हुए आयी और राजू को राखी बाँधने लगी। दोनों भाई-बहन ने सेल्फी के लिये मुंह बनाया। लेकिन ये क्या! सेल्फ़ी तो खिंची ही नहीं! राजू ने कहा- “कोई नहीं, एक बार और सही!” और सारिका ने फिर से राखी बांधने का पोज दिया लेकिन इस बार भी सेल्फ़ी नहीं खिंची। सारिका ने गुस्से में थाली पटकी और पैर पटकते हुए कमरे में चली गयी। यह देखकर राजू की मम्मी राजू को धोने लगीं।

“आईफ़ोन से सेल्फ़़ी खींचूंगा…आईफ़ोन से! कर दिये 50 हज़ार रुपये बेकार! पता नहीं आईफ़ोन के नाम पे कहां से ये कबाड़ उठा लाया। बिना सेल्फी के रक्षाबंधन, हाय राम! अब तो कांडपाल के लड़के ने भी फ़ोटो डाल दिये होंगे। बस यही दिन देखना बाकी रह गया था।” मम्मी ने कोसते हुए कहा।

राजू को पिटता देख सारिका को तरस आ गया। वो अंदर से अपना पिंटेक्स मोबाइल लेकर आयी और बोली- “लो इससे ले लो! लेकिन अगर इस बार भी नहीं खिंची तो फिर तुम्हें कभी राखी नहीं बांधूंगी! बताये देती हूं!” उसने फिर से थाली सजायी, फिर से राखी को हाथ लगाया और दोनों ने फिर से मुंह बनाया और…क्लिक! इस बार सेल्फ़ी खिंच गयी! लेकिन अफ़सोस! तब तक राजू के बाक़ी दोस्त भी राखी की तस्वीरें व्हॉट्सएप और फेसबुक पर डाल चुके थे। राजू गुमसुम बैठा राखी को देखता रहा।



ऐसी अन्य ख़बरें