Friday, 24th November, 2017

चलते चलते

शर्माजी ने अमिताभ को व्हॉट्सएप ग्रुप से निकाला, अपनी मां के हाथ के बने खाने की बुराई सुनकर भड़के

20, Jan 2017 By बगुला भगत

मुंबई. टीवी पर शर्मा जी की माँ के हाथ के खाने की बुराई करना अमिताभ बच्चन को बहुत भारी पड़ा है। उनकी इस हरकत से ख़फ़ा होकर शर्मा जी ने उन्हें अपने व्हॉट्सएप ग्रुप से निकाल दिया है और क़सम खाई है कि “आईंदा उस लंबू को कभी चाय पे भी नहीं बुलाऊंगा!” (चूंकि शर्माजी उम्र में अमिताभ से थोड़े बड़े हैं, इसलिये उनसे हमेशा तू-तड़ाक से बात करते हैं)

Big B Masaala2
मसाले को अपनी माँ बताते बिग बी

शर्मा जी, जिनका पूरा नाम मुरली प्रसाद शर्मा है, इस घटना से बेहद आहत हैं। सबसे ज़्यादा ग़ुस्सा उन्हें इस बात पर है कि अमिताभ ने उनकी माँ के हाथ के खाने की बुराई सारी दुनिया के सामने कर दी। जिस वजह से उनके नजदीकी रिश्तेदार भी अब उनके घर आने से कतराने लगे हैं।

जब फ़ेकिंग न्यूज़ का संवाददाता शर्मा जी से बातचीत करने उनके घर पहुंचा तो वो तपे बैठे थे। छूटते ही बोले- “तू भी मेरी माँ के हाथ का खाना खाने आया है ना? तू भी अपना मसाला साथ लाया होगा, है ना? दिखा…कहां छुपा रखा है पैकेट…चल निकाल!” –कहकर वो हमारे संवाददाता के कपड़ों की तलाशी लेने लगे।

जब उसने शर्माजी को बताया कि वो तो उनका इंटरव्यू लेने आया है, तब जाकर शर्मा जी ने उसकी पैंट छोड़ी। फिर बिग बी पर निशाना साधते हुए बोले- “अगर मेरी मां इतना ही बे-स्वाद खाना बनाती है तो फिर वो लंबू हर हफ़्ते हमारे घर पे खाना खाने आता ही क्यों है? जब भी जया उसे खाना नहीं देती तो मुंह उठाकर यहां चला आता है। भुक्खड़ कहीं का!”

“इसीलिये दीवार में उसकी माँ उसे छोड़कर शशि कपूर के साथ चली गयी थी।” -शर्माजी फुफकारते हुए बोले। “जो आदमी पैसों के लिये एक मसाले के पैकेट को अपनी माँ बता रहा है, वो कल को एमडीएच वाले बुड्ढे को अपना चाचा भी बता देगा।”

फिर शर्मा जी अचानक हमारे संवाददाता से बोले- “तुम ख़ुद खाकर बताना कि मेरी मां कैसा खाना बनाती है, एक मिनट रुको!” यह कहकर उन्होंने अपनी माँ को आवाज़ लगायी और एक प्लेट में खाना लाने को कहा। सभी पत्रकारों की तरह हमारे संवाददाता के मन में भी फ्री के खाने की बात सुनकर लड्डू फूटने लगे।

उधर, अखिल भारतीय शर्मा संगठन (ABSS) अमिताभ के विरोध में सड़कों पर उतर आया है। ABSS के राष्ट्रीय संयोजक त्रिलोचन शर्मा ने कहा है कि “ये सिर्फ़ मुरली शर्मा की मां का अपमान नहीं है, बल्कि समस्त ब्राह्मणों की मांओं का अपमान है। जब तक अमिताभ उनके खाने को अच्छा नहीं बतायेंगे, तब तक हम उन्हें छोड़ेंगे नहीं!” कहकर त्रिलोचन जी ने प्रदर्शनकारियों के एक जत्थे को अमिताभ के घर के सामने धरना देने के लिये हरी झंडी दिखाकर मुंबई के लिये रवाना कर दिया।

इस बीच, अभी-अभी अमिताभ ने एक नया खुलासा किया है। उन्होंने कहा है कि “बचपन में जब मैं दूध पीने से मना कर देता था तो माँ दूध की बोतल में एवरेस्ट का ‘दुग्ध-मसाला’ मिला देती थीं और मैं एक ही घूंट में सारा दूध पी जाता था।” हालांकि, लोग इसे भी अमिताभ की मसाला बेचने की नयी चाल बता रहे हैं। इंडस्ट्री के जानकारों का कहना है कि “अमिताभ के बचपन में तो एवरेस्ट के मसालों का कहीं नाम भी नहीं था। या तो वो हमें गोली दे रहे हैं या उनकी माताजी उन्हें गोली देती थीं।”



ऐसी अन्य ख़बरें