Friday, 20th January, 2017
चलते चलते

फ़ोटो खिंचवाते समय युवक बेहोश, मोटापा छुपाने के लिए पेट अंदर खींचे रखने की वजह से हुआ हादसा

27, Nov 2014 By बगुला भगत

पटना. पाटलिपुत्र में आज एक विवाह समारोह में उस वक़्त मातम छा गया, जब दुल्हन के जीजा धनंजय मिश्रा आशीर्वाद देते समय अचानक स्टेज पर गश खाकर गिर पड़े। आशीर्वाद कार्यक्रम को स्थगित करके उन्हें तुरंत ही पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी हालत ख़तरे से बाहर बताई जा रही है।

जीजा जी नॉर्मल स्थिति में।
जीजा जी नॉर्मल स्थिति में।

‘मेंहदी मंडप’ मैरिज होम में हुए इस हादसे के बारे में जानकारी देते हुए धनंजय के साले अवी ने बताया कि “जीजा जी लवी को आशीर्वाद दे रहे थे कि तभी अचानक उनके पेट में बहुत तेज़ दर्द हुआ और वे चक्कर खाकर नये जीजू के पैरों पर गिर पड़े।”

धनंजय की पत्नी छवि ने बताया कि “ये सब मोटापा छुपाने की वजह से हुआ है। कैमरामैन ने फ़ोटो लेने में इतनी देर लगा दी कि…” -यह कहते-कहते उनका गला रुंध गया।

“जब तक फोटो खिंच नहीं जाता, तब तक ये सांस अंदर ही खींचे रखते हैं ताकि इनका पेट ना दिखायी दे जाये। और यहां तो लगन-सगाई वाले दिन से फोटो ही खिंच रहे हैं। दो दिन में इन्हें कितना पेट अंदर खींचना पड़ा होगा” -इतना कहते ही उनकी रुलाई छूट गयी।

साड़ी के पल्लू से नाक और आंसू एक साथ साफ़ करते हुए वो बस इतना और कह पायीं, “ये तो फ़ेसबुक पे भी वही फ़ोटो डालते हैं, जिसमें इनका पेट ना दिख रहा हो। बाकी सारे फ़ोटो डिलीट कर देते हैं।”

डॉक्टर प्रवीण गर्ग (जिन्होंने ख़ुद अपना पेट अंदर खींचा हुआ था) ने बताया कि “मिश्रा जी को ‘पेटोफोबिया’ हो गया है। यह बीमारी अक्सर 35 साल के आसपास वाले लोगों को होती है। ऐसे किसी व्यक्ति के ऑफ़िस में अगर लड़कियां भी हों, तो यह बीमारी और भी गंभीर रूप धारण कर लेती है। तब ये लोग अपने पेट को बिल्कुल भी ढीला नहीं छोड़ते।”

“इस शादी में मिश्रा जी ने अपने पेट को कुछ ज़्यादा ही स्ट्रेस दे दिया। अगर ये कहीं साइड में जाकर बीच-बीच में पेट को आराम देते रहते तो शायद ये नौबत ना आती।” इसके बाद डॉ. गर्ग ने श्रीमति मिश्रा को हिदायत देते हुए कहा कि “अब इन्हें एक हफ़्ते तक अपने पेट को पूरा रिलेक्स देना होगा और हां, तब तक नो फ़ोटो-शोटो! ओनली रेस्ट!”



ऐसी अन्य ख़बरें