Monday, 23rd April, 2018

चलते चलते

करनी सेना के मेंबर में आ गयी माँ पद्मावती की आत्मा, ग़लती से देख बैठा था 'पद्मावत'

31, Jan 2018 By बगुला भगत

मथुरा. अगर ‘पद्मावती’ पर बनी एक फ़िल्म पूरे देश में आग लगा सकती है, तो सोचिए कि उनकी आत्मा क्या कर सकती है! उनकी आत्मा की ताक़त का सबूत कल मथुरा में मिल गया, जब उसने पद्मावत देखने पर करनी सेना के एक राजपूत युवक को अपने क़ब्ज़े में कर लिया और उसका जीना मुहाल कर दिया।

Bhoot-Padmavati1
रणछोड़ राठौड़ के सर से पद्मावती का भूत उतारता तांत्रिक

प्राप्त जानकारी के अनुसार, रणछोड़ राठौड़ नाम का ये ‘करनी युवक’ मथुरा में अपने दोस्त रणधीर के पास आया हुआ था। शाम को रणधीर ने रणछोड़ से ‘पद्मावत’ देखने की ज़िद की। शुरु में तो रणछोड़ ने मना किया लेकिन जब रणधीर ने कहा कि यार पिक्चर में राजपूतों को बहुत बहादुर दिखाया है और माँ पद्मावती को भी बहुत सही दिखाया है। तो वो मान गया।

“यार सच्ची बताऊँ! मन तो मेरा भी कर रहा था लेकिन क्या करूँ! अपणे राजस्थान में तो रिलीज ही नहीं हुई ना!” -कहकर वो फ़िल्म देखने चल दिया। उस बेचारे को क्या पता था कि तीन घंटे बाद क़िस्मत उसके साथ क्या खेल खेलने वाली है!

जैसे ही वे दोनों पद्मावत देखकर सिनेमा हॉल से बाहर निकले तो रणछोड़ ने मुँह से अजीब-अजीब आवाज़ें निकालना शुरु कर दिया और ज़ोर-ज़ोर से सर घुमाने लगा। यह देखकर रणधीर डर गया और वहाँ से भाग खड़ा हुआ।

बाद में रणछोड़ के घरवाले उसे एक ओझा के पास ले गये, जो उसके अंदर से पद्मावती के भूत को निकालने के लिए झाड़-फूँक कर रहा है। वो अब तक दो टोकरे नींबू-मिर्ची काट चुका है लेकिन अभी तक भूत निकला नहीं है। लगता है माँ पद्मावती रणछोड़ को अपने साथ ही लेकर जाएंगी।

उधर, करनी सेना ने रणछोड़ के परिवार का हुक्का-पानी बंद किया है। करनी सेना के कमांडर-इन-चीफ़ लोकेंद्र कालवी का कहना है कि “उस गद्दार ने माँ पद्मावती का और हमारी कल्चर का अपमान किया है, इसलिए हम उन्हें ना अपने हुक्के में कश लगाने देंगे और ना अपने कुएँ से पानी पीने देंगे!”



ऐसी अन्य ख़बरें