Monday, 1st May, 2017
चलते चलते

व्हॉट्सएप की वजह से घरेलू महिलाओं पर काम का बोझ हुआ दोगुना, 'व्हॉट्सएप भत्ता' देगी सरकार

28, Feb 2017 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. देश की जो करोड़ों घरेलू महिलाएं व्हॉट्सएप पर दिन-रात बिना थके लगातार काम कर रही हैं, सरकार ने अब उन्हें सेलरी देने का फ़ैसला किया है। ऐसी मेहनती महिलाओं के लिये केंद्र सरकार ‘अटल व्हॉट्सएप रोज़गार योजना’ (AWRY) लेकर आ रही है। इस योजना के तहत उन्हें हर महीने पारिश्रमिक दिया जायेगा और ‘शिक्षा-मित्र’ की तरह उन्हें ‘व्हॉट्सएप-मित्र’ कहा जायेगा। जिस ‘व्हॉट्सएप-मित्र’ के जितने ज़्यादा ग्रुप होंगे, उसकी उतनी ज़्यादा सेलरी होगी।

WhatsApp2
व्हॉट्सएप पर काम करती महिलाएं

केंद्रीय श्रम एवं रोज़गार राज्य मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने ‘आरी’ योजना की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि “देश में व्हॉट्सएप से बहुत बड़े पैमाने पर रोज़गार-सृजन हो रहा है। जिन महिलाओं को चार-पांच साल पहले तक यह शिकायत रहती थी कि ‘भैन, टाइम नहीं कटता’, वे सब व्हॉट्सएप की बदौलत काम पर लग गयी हैं और अब उनके पास टाइम कम पड़ गया है।”

“जो महिलाएं व्हॉट्सएप पर एक्टिव हैं, उनके काम की रफ़्तार बढ़ गयी है। इसके लिये उन्हें ‘स्किल इंडिया’ वाली ट्रेनिंग लेने की भी ज़रूरत नहीं पड़ी। अब वे खाना बनाना, बच्चों को नहलाना-धुलाना, कपड़े पहनाना आदि कामों को बहुत तेज़ी से करने लगी हैं। क्योंकि इन कामों को जल्दी से निपटाकर उन्हें व्हॉट्सएप पर आये मैसेज भी देखने होते हैं।” -यह कहते हुए बंडारू बीच-बीच में अपने मोबाइल को भी देखते रहे।

“यानि पुरुषों के मुकाबले वो चार गुना काम कर रही हैं। उनकी इतनी मेहनत के बावजूद भी हम उनके योगदान का सही मूल्यांकन नहीं कर पाते। उनका ये काम कितने हज़ार रुपयों के बराबर है, हमें इसका अंदाज़ा ही नहीं है।”

“लेकिन आपको पता कैसे चलेगा कि किस महिला ने व्हॉट्सएप पर कितने घंटे काम किया?” इसके जवाब में उन्होंने कहा कि “सभी महिलाओं के मोबाइल में हम ‘भीम’ एप की तरह का एक नया एप डालेंगे, जिससे पता चल जायेगा कि उन्होंने कितने घंटे व्हॉट्सएप पर बिताये। फिर उसी हिसाब से उनके अकाउंट में पैसे ट्रांसफ़र हो जाएंगे।” -यह कहकर वो मोबाइल पर व्हॉट्सएप मैसेज चेक करते हुए हंसने लगे।

इस योजना के अलावा, सरकार उन नौकरीपेशा लोगों को भी हर महीने कुछ मानदेय देने पर विचार कर रही है, जो बेचारे ऑफ़िस के रास्ते में व्हॉट्सएप पर ओवरटाइम करते हैं और जिन्हें घर पहुंचने पर भी व्हॉट्सएप पर लगना पड़ता है।



ऐसी अन्य ख़बरें