Saturday, 23rd September, 2017

चलते चलते

'शो ऑफ़' करने के लिए अंग्रेज़ी बोल रहे थे दोस्त, झगड़ा होते ही हिंदी में गालियाँ बकने लगे

14, Sep 2017 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. कहते हैं कि लोग ग़ुस्से में अपनी असली औकात में आ जाते हैं। साउथ दिल्ली में रहने वाले चार दोस्तों के साथ भी कल रात कुछ ऐसा ही हुआ। इन चारों में से एक का किसी एग्ज़ाम का कोई रिज़ल्ट आया था, इसी उपलक्ष्य में उसके वसंत कुंज वाले फ़्लैट पे पार्टी चल रही थी। इसी पार्टी के दौरान अंग्रेज़ी बोलने वाले ये अच्छे-ख़ासे लोग गाली देने के टाइम पे हिंदी की गालियों पे उतारू हो गये।

Hindi Abuse
अंग्रेज़ी से हिंदी पे आता मोहित

इन चारों में से विशाल और मोहित थोड़े अंग्रेज़ीदाँ टाइप हैं और हिंदी में बोलते कम ही दिखाई देते हैं। इस पार्टी में भी अंग्रेज़ी की शुरुआत इन दोनों ने ही की थी। पार्टी देने वाला राजीव रंजन और गौरव प्रकाश वैसे थोड़े ‘देसी’ टाइप हैं और कभी-कभार पार्टी वगैरह में ही अंग्रेज़ी बोलते हैं। इसलिये हलक में दो पेग जाने के बाद इन दोनों के मुँह से भी अंग्रेज़ी की उल्टी होनी शुरु हो गयी। थोड़ी देर बात तो ये लगने लगा कि ये दिल्ली का नहीं, इंग्लैंड या अमेरिका का कोई फ़्लैट है।

लेकिन अचानक फिर कुछ ऐसा हुआ कि सारा सीन ही बदल गया। गौरव ने मोहित की कॉलेज टाइम की किसी गर्लफ्रेंड का क़िस्सा छेड़ दिया, जिससे मोहित नाराज़ हो गया और गौरव को कुछ उल्टा-सीधा बोल दिया। दो-एक मिनट तो अंग्रेज़ी में ठंडी और नीरस गालियाँ चलीं।

उसके बाद जो वहाँ पे हिंदी में ‘MC’, ‘BC’ और ‘पैंचो’ की रसधार बहनी शुरु हुई है कि बस पूछिये मत! चारों ने एक-दूसरे को मुँह भर-भर के ठेठ हिंदी में गालियाँ बकना शुरु कर दिया। हल्ला सुनकर सोसायटी वाले आ गये और चारों को रात को ही गेट से बाहर निकाल दिया। उसके बाद ये चारों कहाँ गये और कौन सी लैंग्वेज बोली, यह अभी पता नहीं चल पाया है।



ऐसी अन्य ख़बरें