Sunday, 17th December, 2017

चलते चलते

पटाखों से परेशान होकर दिवाली पर कुत्तों ने सीखा सबक, रात को ना भौ़कने का किया निर्णय

30, Oct 2016 By Prachand Patrakar

बैंगलोर : दिवाली पर हुए आतिशबाज़ी से परेशान कुत्तों ने सबक सीखते हुए रात 12 बजे से सुबह 6 बजे तक को “No Barking Time” घोषित किया है। मरथाहल्ली में कल शाम हुई कुकुर संघ की बैठक में यह निर्णय लिया गया।

कुक्कुर संघ के अध्यक्ष
कुक्कुर संघ के अध्यक्ष

Faking News के रिपोर्टर से हुई बातचीत में बैंगलोर कुकुर संघ के अध्यक्ष शेरू कुमार स्वान ने बताया कि दिवाली वाली रात हमारी खटिया खड़ी हो गई। रात भर पट पट करते पटाखों ने हमें बेचैन कर दिया और हम बेहाल बदहवास इधर उधर भागते रहे। हम भाग कर नंदी हिल्स पहुंच गए तब जा कर कुछ चैन आई।

सुबह उठ के पेंड़ो कि जड़ो को टांग उठा के सीचने के बाद मेडिटेशन के लिए बैठा। उसी समय खयाल आया कि एक दिन के शोर से हमारी ये दशा हो गई , बेचारे ये मानव हमारे नित्य की भोकने कि प्रक्रिया से कितना आहात होते होंगे। नंदी हिल्स पर sunrise देखने के तुरंत बाद हम वापस शहर आये और ये आपातकालीन बैठक बुलाई गई।

बैठक में तय हुआ कि शाम को 8 बजे तक भोजन करने के बाद आधे घंटे अपने इलाके का quick दौरा होगा। बॉर्डर और ट्रेस पासिंग रिलेटेड गंभीर मुद्दे 10 बजे से पेहले भौंक भौंक के निपटा लिए जाएंगे। 10 से 12 के बीच गृह कलह के मुद्दे जैसे girlfriend की सुरक्षा, सोने का स्थान , motorcycle और car सवरों को मार गिराना इत्यादी अतिआवश्यक समस्याओं का निपटारा किया जायेगा। 12 से 6 बजे के बीच आने वाली कोई भी आवश्यक समस्या का निपटारा अगले दिन सुबह में किया जाएगा।

बैठक में महिला कुकुर संघ की अध्यक्षा डॉली कुकुराइन , टॉमी कुकुर , फॉक्सी , मेक्सी , टाइगर , रोजी इत्यादि मौजूद रहे।



ऐसी अन्य ख़बरें