Tuesday, 25th April, 2017
चलते चलते

बर्थडे पर बेटा तो बैठा रहा चुपचाप कमरे में, पापा ने मनाई दोस्तों संग दारू पार्टी

12, Jan 2017 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. मयूर विहार के फ़ेज-1 में रहने वाले रवीन्द्र राजपूत हमेशा दोस्तों के संग पार्टी करने का बहाना ढूंढते रहते हैं। नया मोबाइल खरीदा तो पार्टी, नया टीवी ले लिया तो पार्टी! कभी-कभी तो नया कच्छा खरीदने पे भी पार्टी कर डालते हैं भाईसाब! और तो और, बच्चों के जन्मदिन के बहाने भी महफ़िल सजा लेते हैं।

party
बेटे की बड्डे पार्टी सेलिब्रेट करते पापा जी

कल रात भी यही हुआ। रवीन्द्र बाबू के बेटे प्रांशु (स्कूल का नाम प्रियांशु) का बर्थडे था, इस मौक़े पर रवीन्द्र के ‘ख़ास’ दोस्त भी आये हुए थे। अपनी पार्टी के चक्कर में उन्होंने 7 बजे ही केक काटने की फॉर्मेलिटी निपटा दी, सारे दोस्तों ने जल्दी-जल्दी ‘हैप्पी बड्डे टू यू’ बोला और अपना साजो-सामान लेकर बैठ गये अलग कमरे में!

फ़ेकिंग न्यूज़ का संवाददाता भी मुफ़्त की पार्टी के चक्कर में वहां पहुंचा। जब वो सीढ़ियों पर था तो उसे प्रांशु की मम्मी संगीता की आवाज़ आयी। वो मोबाइल पर किसी से बोल रही थीं कि “बड्डे-शड्डे तो सब बहाना है। इन्हें तो अपने दोस्तों के साथ पीनी होती है, बस और कुछ नहीं!”

“मैं कह रही थी कि प्रांशु को कहीं मॉल-वॉल में घुमा लाओ। तो कहन लगे मॉल में इतनी भीड़-भाड़ होती है, बड्डे अपने घर पे ही अच्छा लगता है। मैंने कहा तो फिर अपने इन दोस्तों को क्यूं बुला रहे हो, तो बोले- अरे भई उन्हें भी तो प्रांशु के बड्डे की ख़ुशी है।”

“और दोस्त भी ऐसे बेशरम हैं कि पूछो मत! सब के सब हाथ लटकाते हुए आ जायेंगे। ये नहीं कि कोई सौ-पचास रुपये का गिफ़्ट ही ले आयें। हज़ारों की दारू तो पी जायेंगे। एक जन्नलिस्ट है उनमें! वो हरदम यही बोलेगा कि आशीर्वाद ही सब कुछ है भाभी जी! और हीं…हीं…हीं करके दांत फाड़ने लगेगा।”

वो फ़ोन पे ये सब बोल ही रही थीं कि तभी रवीन्द्र बाबू पोंछा लेने बालकनी में आ गये। संगीता ने मोबाइल नीचे कर लिया और पूछा- “ये पोंछा कहां ले जा रहे हो?” तो उन्होंने झेंपते हुए जवाब दिया- “राजकुमार ने उल्टी कर दी।” बस, इसके बाद वहां महाभारत शुरु हो गयी और हमारा संवाददाता दबे पांव वापस सीढ़ियां उतरने लगा। अंतिम समाचार लिखे जाने तक घर में जूतम-पैजार जारी थी, दोस्त लोग पतली गली से खिसक रहे थे और ‘बड्डे बॉय’ प्रांशु खाली बोतलें उठा-उठा कर बालकनी में रख रहा था।



ऐसी अन्य ख़बरें