Saturday, 21st October, 2017

चलते चलते

अपने डीयू वाले दोस्तों से भी ज़्यादा ‘चखना’ खा गया अंग्रेज़ युवक, दोस्त अभी तक सदमे में

17, Jun 2016 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. डीयू में पढ़ रहे एक अंग्रेज़ ने कल रात एक ऐसा काम कर दिया, जिसकी वजह से पूरे भारत में उसकी थू-थू- हो रही है। एंड्रयू मिलर नाम के इस ब्रिटिश युवक पर आरोप है कि कल एक बैठकी (पार्टी) में वो अपने भारतीय दोस्तों से भी ज़्यादा चखना खा गया।

DU
एंड्रयू के ख़िलाफ़ प्रदर्शन करते जुबली हॉस्टल के छात्र

यह हैरतअंगेज़ घटना कल रात दिल्ली यूनिवर्सिटी के जुबली हॉल में घटी, जहां नया आईफ़ोन खरीदने की ख़ुशी में सुकेश के रूम में बैठकी चल रही थी। जिसमें हॉस्टल के 4-5 लोगों के अलावा डी स्कूल का रिसर्चर एंड्रयू भी शामिल था।

घटना के बारे में बताते हुए सुकेश ने बताया कि “तीन-तीन पैग हो चुके थे और सब ज्ञान पेलने में लगे थे। तभी तिवारी ने ध्यान दिया कि चखना कुछ ज़्यादा ही स्पीड से ख़त्म हो रहा है। उसे टेंशन हो गयी- अभी तो आधा माल बचा हुआ है और चखना ख़त्म। इस टाइम कौन जायेगा लेने!”

“जब तिवारी ने उससे कहा कि जा तू ले आ, तो बोला- ‘इट्स नॉट सेफ़ फ़ॉर मी एट दिस टाइम’ और पैकेट के कोने में बचे आख़िरी दो-चार दानों को भी खा गया।”

“फिर खूब गाली-गलौच हुई और हमने एंड्रयू को रूम से निकाल दिया और फिर सब़्ज़ी और प्याज के साथ पी।” -उसने आपबीती सुनायी।

“हमारा तो पूरी दुनिया को पता है कि शराब के साथ ‘चखना’ एक धर्म की तरह है लेकिन साले ये अंग्रेज़ कब से नमकीन खाने लगे। पहले हम जब भी फ़ॉरनर के साथ पार्टी करते थे तो चखने को सेफ़ समझते थे लेकिन अब इनका कोई भरोसा नहीं!”

“नट क्रैकर और मूंग दाल के आधे पैकेट अकेले खा गया साला!” -वो गाली देते हुए बोला।

फ़ेकिंग न्यूज़ की टीम जब एंड्रयू से मिलने पहुंची तो वो पटेल चेस्ट के सामने छोले-कुल्चे खा रहा था। जब हमने उससे कल रात की घटना के बारे में पूछा तो थोड़ी ना-नुकर के बाद उसने मान लिया कि ‘रात कुछ ज़्यादा ही चकना हो गया था।’ फिर हंसते हुए बोला- “आई लव नट क्रैकर!”



ऐसी अन्य ख़बरें