Saturday, 24th June, 2017
चलते चलते

बोरिंग लेक्चर में 50 फ़ीट गहरा गिरा छात्र, राहत और बचाव कार्य जारी

29, Jul 2016 By banneditqueen

भोपाल. केएल कॉलेज के बी.काम फर्स्ट ईयर का एक छात्र एक बोरवेल बोरिंग लेक्चर में गिरता ही चला गया। ये छात्र, जिसकी पहचान अश्विन यादव के रूप में की गयी है, इस वक़्त भी 50 फ़ीट गहरे बोरिंग लेक्चर में फंसा है और बाहर नहीं निकल पा रहा। दोस्तों ने बताया कि “हम सब तो हर दो-दो मिनट में अपना मोबाइल देखते रहते हैं और किसी तरह अपने आप को बोरिंग लेक्चर में गिरने से बचा लेते हैं लेकिन अश्विन कई मिनट तक ध्यान से लेक्चर सुनता रहा और ये कांड हो गया।” अश्विन के दोस्त रूप सिंह ने बताया, “लेकिन अश्विन की अचानक आंख लगी और वो फिसलता ही चला गया। इससे पहले कि हम कुछ कर पाते वो पचास फीट नीचे गिर चुका था।”

लेक्चर में सोता अश्विन
लेक्चर में सोता अश्विन

“इतना नीचे तो कभी  विजयवर्गीय सर भी नहीं गिरते!” -रूप सिंह ने कहा। बोरिंग लेक्चर में गिरने की ये ख़तरनाक घटना कॉलेज के अकाउंट्स लेक्चरर मुकेश विजयवर्गीय की क्लास में दोपहर तकरीबन एक बजे हुई। दो बजे तक सारे स्टुडेन्टस और ख़ुद विजवर्गीय सर बोरिंग लेक्चर से निकल चुके थे, पर अश्विन वहीं फंसा रह गया। “हमने काफी कोशिशें की लेकिन वो नहीं उठा। वो ज़िन्दा है पर ना वो सो रहा है और ना जग रहा है, बस आंख फाड़े देखे जा रहा है।” -राहत और बचाव कार्य में जुटे कॉलेज के डॉक्टर ने बताया। फिलहाल उसके दोस्त, डॉक्टर, पुलिस और मीडिया की टीम पिछले तीन घंटे से अश्विन को बोरियत से निकालने में जुटे हैं पर कोई सफलता हाथ नहीं लगी है।

कुछ दोस्तों ने उसे व्हॉट्सएप से वही चुटकुले सुनाने शुरू किये जिन्हें वो दिन में चार बार पढकर हँसता था। जब उससे भी बात नहीं बनी तो लोगों ने उसे केजरीवाल और आशुतोष के ट्वीट्स, राहुल गाँधी के भाषण और मोदी के जुमले भी सुनाए लेकिन उनसे भी कोई फर्क नहीं पड़ा। फिर उसे यू ट्यूब से हनी सिंह के गाने और अर्नब की डिबेट भी दिखाई, यहां तक कि उसे साथी रोशन की जुराबें भी सुंघाई गईं। पर सब बेकार! अंतिम ख़बर आने तक सब राहत और बचाव कार्य में जुटे थे। मीडिया पर लाइव टेलिकास्ट भी हो रहा था और बहस चल रही थी कि सरकार को बोरिंग लेक्चर पे बैन लगाना चाहिए।



ऐसी अन्य ख़बरें