Tuesday, 25th April, 2017
चलते चलते

यू ट्यूब पर वायरल होने के चक्कर में युवक ने किया चोरी का नाटक, पहुँचा जेल

13, Sep 2016 By banneditqueen

नयी दिल्ली. यमुना नगर का रहने वाला निखिल पिछले कई सालों से बेरोज़गार था। दिनभर फेसबुक-व्हॉटसैप पे लड़कियों से बातें करना और रात में पिताजी की गालियाँ सुनना उसकी दिनचर्या बन चुकी थी। निखिल के दोस्त शशांक की हालत भी कुछ ऐसी ही थी। एक दिन शशांक ने निखिल से कहा “यार अपन को कोई धाँसू वीडियो बनाकर यू ट्यूूब पर अपलोड कर देना चाहिये, रातोरात मशहूर भी हो जाएँगे और पैसे भी कमा सकते हैं।” शशांक ने फिर निखिल को कुछ यू ट्यूबर्स के बारे में बताया जो बहुत ही कम समय में मशहूर हो गए।

निखिल को ले जाती पुलिस
निखिल को थाने ले जाती पुलिस

इसके बाद कई दिनों तक उन्होंने हजारों वीडियो देखे। निखिल को अब जब भी उसके पापा कोई ताना मारते तो वो मुस्कुरा कर बोलता “बस पापा कुछ दिन और ताने मार कर खुश हो लो आपका ऐसा नाम रोशन करूँगा कि आपने सपने में भी नहीं सोचा होगा।” निखिल और शशांक ने प्रैंक वीडियो बनाने का सोचा। उनका प्लान था कि दुकानों में जाकर साफ सफाई करने वाले को पैसा देकर उससे दुकान का सामान चोरी करवाएँगे और बाद में वो सामान लौटा देंगे। निखिल साफ सफाई करने वाले से बात करेगा और शशांक दूर खड़े होकर रिकॉर्ड करेगा। दो तीन दुकानों में यह प्लान सफल रहा। उन्होंने सोचा क्यों ना किसी ज्वैलर की दुकान पर ये काम किया जाए। दोनों हीरालाल ज्वेैलर्स की दुकान पर पहुँचे, उन्होनें सफाई कर्मचारी को 5000 रुपये पकड़ाए और एक हार चोरी कर लाने को कहा।

कर्मचारी पैसे लेकर दुकान के अंदर चला गया। आधे घंटे बीत चुके थे। कुछ ही देर में दो पुलिस वाले शशांक और निखिल को पकड़कर पुलिस थाने ले आए और पूछताछ शुरू कर दी। निखिल ने रोते हुए बताया “सर हम तो यू ट्यूबर हैं, हम तो बस प्रैंक वीडियो बना रहे थे।” थाना प्रभारी सुखबीर सिंह ने फेकिंग न्यूज़ को बताया कि “हमें शक है कि ये दोनो किसी बड़े गिरोह का हिस्सा हैं, इनसे पूछताछ जारी रहेगी।” निखिल के पिता ने थाने पहुँचकर निखिल पर चिल्लाते हुए कहा “यही नाम रोशन करने वाला था तू? सच ही बोल रहा था यह तो मैनें सपने में भी नहीं सोचा था।” शशांक के पिता ने उसकी जमानत करा ली है पर निखिल अभी भी हवालात में बंद है।



ऐसी अन्य ख़बरें