Saturday, 23rd September, 2017

चलते चलते

युवक को था छिपकलियों से लगाव, दस साल से बैठा है कुँवारा

14, Sep 2016 By banneditqueen

छिंदवाड़ा. बंगलोर की करिश्मा मलिक की कहानी – जिन्होंने एक रिश्ता इसलिये ठुकरा दिया क्योंकि लड़के को उनका कुत्ते पालने का शौक रास नहीं आया, कल से ही इंटरनेट पर छाई हुई है। इस वाकये के फैलते ही एक और कहानी सामने आई, छिंदवाड़ा के मनोज सोलंकी की। मनोज एक मल्टीनेशनल कम्पनी में काम करते हैं। लाखों का पैकेज होने के बाद भी पिछले दस साल से कुँवारा बैठा है। कारण था मनोज का छिपकलियों से लगाव। मनोज सोलंकी को बचपन से ही रेंगने वाले कीड़े और अन्य जानवर पसंद थे खासकर छिपकलियाँ। मनोज ने अपने कमरे में कई सारी छिपकलियाँ पाल रखीं हैं।

मनोज की विदेश से मंगाई हुई छिपकली
मनोज की विदेश से मंगाई हुई छिपकली

मनोज स्कूल में कई लड़कियों का क्रश थे पर जैसे ही लड़कियों को यह पता चलता कि मनोज को छिपकलियाँ पसंद है वह दूर भाग जातीं। 25 साल की उम्र के बाद माता पिता ने मनोज की शादी के लिये रिश्ते ढूँढने शुरू कर दिये। धीरे धीरे यह बात सब में फैल गई, शुरूआत में जितने भी रिश्ते आते लड़कियाँ मनोज के कमरे से चीखते चिल्लाते हुए बाहर आतीं। जहाँ भी वे रिश्ते की बात चलाते लड़की मनोज के छिपकली प्रेम के बारे में सुनकर मना कर देती। ऐसे कई बार ना सुनने के बाद माँ बाप ने मनोज से यह सब बंद करने को कहा, पर मनोज ने साफ मना कर दिया।

मनोज ने फेकिंग न्यूज़ संवाददाता को बताया “कई साल पहले एक रिश्ता आया था, माँ बाप ने लड़की से बात करने कि लिये हम दोनों को कमरे में भेज दिया, कमरे में घुसते ही छिपकली देखकर लड़की ने ज़ोर ज़ोर से चीखना शुरु कर दिया और उछल कर बेड पर चढ़ गई। लड़की के भाइयों को कि लगा मैंने कुछ बदतमीज़ी कर दी उन्होनें कमरे में घुसते ही मुझे पीटना शुरु कर दिया। फिर लड़की ने उन्हें रोक कर मुझे जैसे तैसे छुड़ाया और बताया कि मनोज ने कुछ नहीं किया मैं तो छिपकली देखकर चीख रही थी, इतनी मार खाने के बाद भी मेरा छिपकली प्रेम कम नहीं हुआ।” मनोज ने कई बार ठुकराए जाने के बाद अब शादी करने का ख्वाब छोड़ दिया है।



ऐसी अन्य ख़बरें