Saturday, 19th August, 2017

चलते चलते

क्रिकेट को और रोमांचक बनाने के लिये आईसीसी का नया फ़ैसलाः "बैट्समैन क्रीज पर आते ही बॉलर को दो थप्पड़ भी रसीद करेगा"

04, Mar 2015 By बगुला भगत

सिडनी/दुबई. क्रिकेट वर्ल्ड कप में कुछ बॉलर्स के अच्छे प्रदर्शन ने आईसीसी को परेशानी में डाल दिया है। आईसीसी ने आज एक बयान जारी कर कहा है कि “यह बेहद शर्मनाक है कि हमारी तमाम ‘बैट्समैन-फ्रैंडली’ कोशिशों के बावजूद ये बॉलर्स अभी भी विकेट ले रहे हैं।”

इस गंभीर संकट के मद्देनज़र आईसीसी ने अपने दुबई स्थित मुख्यालय में एक आपात बैठक बुलायी, जिसमें ऐसे अनुशासनहीन बॉलर्स पर नकेल कसने के लिये खेल के नियमों में कुछ बड़े बदलावों को मंजूरी प्रदान कर दी गयी।

Sreesanth
थप्पड़ खाने के बाद अगर बॉलर रोता हुआ पाया गया तो उस पर जुर्माना भी लगेगा।

सबसे अहम बदलाव यह है कि अब नया बैट्समैन क्रीज पर पहुंचते ही पहले बॉलर को दो थप्पड़ मारेगा, उसके बाद चौके-छक्के मारना शुरु करेगा। दूसरा बदलाव यह है कि जिस टीम के बॉलर्स 300 से कम रन बनवायेंगे, उसकी पूरी मैच फ़ीस काट ली जायेगी और उनसे 300 उठक-बैठक कराई जायेंगी।

आईसीसी के सीईओ डेव रिचर्डसन ने इन बदलावों की जानकारी देते हुए बताया, “हम यह सब क्रिकेट को और ज़्यादा रोमांचक बनाने के लिये कर रहे हैं। सिंपल सी बात है! बॉलर को पिटता देखकर दर्शकों को मज़ा आता है और अब वे बॉलर की गेंदों की पिटाई देख-देखकर बोर हो रहे हैं। वे अब कुछ ‘मोर’ चाहते हैं।”

डेव ने हैरानी जताते हुए कहा कि “अब तो हद ही हो गयी है! एक ही मैच में दो-दो बॉलर पांच-पांच विकेट ले रहे हैं। दर्शक क्या यही सब देखने स्टेडियम आते हैं? जी नहीं! वे इनके विकेट नहीं, डबल सेंचुरी देखने आते हैं।”

विश्व क्रिकेट की इस शीर्ष संस्था के अध्यक्ष मुस्तफ़ा कमाल का कहना है कि “पांच विकेट लेना ‘क्रिकनिंदा’ क़ानून का सरासर उल्लंघन है। ऐसे बॉलर को तो बीच पिच पर खड़ा करके सार्वजनिक रूप से सौ कोड़े मारे जाने चाहिये।”

श्री कमाल ने आगे कहा, “हम उन सभी मैचों के वीडियो फुटेज देख रहे हैं, जिनमें 300 से कम रन बने हैं। इसके लिये जो भी बॉलर्स दोषी पाये जायेंगे, उन्हें बख़्शा नहीं जायेगा।”

आईसीसी और बीसीसीआई के सदाबहार कर्मचारी समर्थक सुनील गावस्कर और रवि शास्त्री ने इन बदलावों का जेब खोलकर स्वागत किया है और इन्हें अपने क्रिकेट के भविष्य की दिशा में एक क्रांतिकारी क़दम बताया है।



ऐसी अन्य ख़बरें