Friday, 24th November, 2017

चलते चलते

अपने रूम में दो खिड़की देखकर चौंका युवक, व्हाट्सएप बंद होने पर पहली बार किया गौर

03, Nov 2017 By Ritesh Sinha

रायपुर. आधे घंटे के लिए व्हाट्सएप क्या बंद हुआ, देश-विदेश में हाहाकार मच गया। सबसे ज्यादा दुःख की बात यह है कि लोग किसी को बता भी नहीं पा रहे थे कि व्हाट्सएप बंद है। योगेश जैन भी मुख्यतः व्हाट्सएप का ही प्राणी है, पृथ्वी से उसका ज्यादा लेना-देना नहीं रहता। लेकिन आज जब व्हाट्सएप बंद हुआ तो वो यह देखकर हैरान रह गया कि उसके कमरे में दो-दो खिड़कियाँ हैं। उसे अपनी आँखों पर यकीन ही नहीं हुआ। उसने अंदाजा लगाया था कि रूम में ज्यादा से ज्यादा एक खिड़की ही होगी, लेकिन यहाँ तो दो-दो खिड़कियाँ मुंह बाएं खड़ी हैं।

WhatsApp4
इस नासपीटे की वजह से आधी चीज़ें नहीं देख पाते लोग

तभी उसे दाल में कुछ काला नज़र आया, वह जोर से चिल्लाया, “मम्मी! अपना ध्यान रखो! हमारे घर में कोई चोर घुस आया है! बहुत बड़ा छेद हो गया है दीवार पर! साला, मेरे हाथ लग गया तो दांत तोड़ दूंगा!” -कहता हुआ वह तेज़ी से घर के सारे कमरे चेक करने लगा। इतने में उसकी मम्मी भी बाहर आ गई। व्हाट्सएप बंद था, तो वो भी उस समय होश में थी। “हाँ बेटा! सच में बहुत बड़ा छेद हो गया है, तेरे वाले कमरे में! पुलिस को फोन लगा जल्दी!” उसकी मम्मी डर के मारे कांपने लगी।

योगेश पुलिस को फोन घुमाने लगा। उसी वक़्त उसके पापा मि. जैन लंच करने के लिए दुकान से घर में दाखिल हुए। योगेश की मम्मी उन्हें देखते ही फूट पड़ी और सारा माजरा उन्हें बता दिया। यह सुनकर मि. जैन आग बबूला हो उठे और तमतमाते हुए बोले- “हमारे घर में कोई चोर नहीं घुसा, वो खिड़की है! जब से घर बना है, वो तभी से वहीं है, एक इंच भी नहीं हिली। तुम लोगों को सर उठाकर देखने की फुरसत मिले तब ना!” -कहते हुए वे खाने की टेबल पर बैठ गए।

“ऐसा क्या? हमने तो आज गौर किया!” -मिसेज जैन बोली। इस तरह सबने राहत की सांस ली। “अब पापा कह रहे हैं, तो सच में वो खिड़की ही होगी, वो हमसे झूठ क्यों बोलेंगे!” -ऐसा सोचकर योगेश ने अपना मोबाइल उठाया और फिर से अपने रूम में घुस गया। थोड़ी देर में व्हाट्सएप ठीक हो गया और पेंडिंग मैसेज अचानक डिलीवर होने लगे। सबने दोबारा राहत की सांस ली। इस बार वाली राहत में चोर वाली राहत से ज्यादा वज़न था।

उधर, व्हाट्सएप बंद होने पर देश के कोने-कोने से ऐसी ही ख़बरें आ रही हैं। दिन भर व्हाट्सएप यूज करने वाले एक शख्स दुर्योधन कुमार ने बताया कि “मैंने अपने दोस्त को सांप वाला वीडियो, जल्दी अमीर बनने के दस उपाय और “भक्ति की मूल परिभाषा” भेजी थी! बहुत देर बाद उस तक पहुंची! बेचारे का नुकसान हो गया!” -उन्होंने अपने पेंडिंग मैसेजेस को पढ़ते हुए बताया।



ऐसी अन्य ख़बरें