Monday, 18th December, 2017

चलते चलते

IPL ख़त्म होते ही पत्नियां ले रही हैं अपने पतियों से बदला, देख रही हैं बैक टु बैक नागिन के एपिसोड्स

22, May 2017 By banneditqueen

मुंबई. कल IPL का आखिरी मुकाबला था , जहाँ लोग मुंबई इंडियन्स से उम्मीद हार चुके थे तभी मुंबई ने ऐन मौके पे बाज़ी मार ली। पिछले कई दिनों से चले आ रहे IPL के आतंक से पत्नियां काफी परेशान थीं। घर का ज़रूरी काम छोड़ कर पति केवल IPL देखने में व्यस्त थे। यहीं नहीं मैच ख़त्म होने के बाद उसपर घंटों चर्चा। न खाना खाने का होश न सब्ज़ी लाने का न राशन लाने का। जिन पतियों की पत्नियां मायके गयीं थी वो खुश तो थे पर जब अगले दिन पत्नी की फोन पर चीखती हुई आवाज़ सुनाई पड़ती कि ”कहाँ मर गए थे फोन क्यों नहीं लगाया ? और मिस्ड कॉल्स देख कर कॉल बैक क्यों नहीं किया ? कोई चिंता ही नहीं है कि मैं ठीक हूँ या नहीं !!” तब दुःख होता कि इससे अच्छा तो वो घर पे ही होतीं।

नागिन डसेगी सभी IPL फैंस को
नागिन डसेगी सभी IPL फैंस को

इस वर्ष आल इंडिया पत्नी संघ ने IPL शुरू होने के पहले ही यह फैसला कर लिया था कि फ़ाइनल मैच होने के बाद पतियों को सबक सिखाया जाएगा। आल इंडिया पत्नी संघ की अध्यक्षा निर्मला सोनी ने फेकिंग न्यूज़ संवाद्दाता को बताया कि ”हम सभी औरतों ने मिलकर यह फैसला किया है कि हम फ़ाइनल होने के बाद बैक टु बैक नागिन शो देखेंगी। भले ही सारे एपिसोड्स हमारे देखे हुए होंगे फिर भी हम दुबारा सारे एपिसोड्स देखेंगी। ताकि इन पतियों को एहसास हो कि हम कैसा महसूस करते हैं।” सास बहू और साज़िश”, ”बहु, बेटी और वो” नामक जितने न्यूज़ चैनल पर सीरिअल्स के डिसकशंस होते हैं हम सारे देखेंगे। अगर हमारे पति हमसे उस वक्त कोई काम करने को बोलेंगे तो हम टी.वी.में आँखें गड़ाए बैठे रहेंगे और ऐसा बर्ताव करेंगे जैसे हमें कुछ भी सुनाई ना दे रहा हो। अगर नागिन देखते टाइम नागिन को कुछ होगा तो हर थोड़ी देर में ऐसा रिएक्शन देंगे जैसे हमारी दुनिया ही लुट गयी हो। जबसे IPL शुरू हुआ है हर साल का नाटक है, कब तक बर्दाश्त करेंगे? आज ये मैच कल वो सीरीज, ख़तम ही नहीं होता ये सब।”

आल इंडिया पत्नी संघ की एक सदस्य ने ये भी कहा है कि वे अपनी बेटी के लिए जो रिश्ते ढूंढ रही हैं उसमे पहले ही यह शर्त रखी गयी है कि लड़का क्रिकेट या किसी और खेल का फैन न हो, उनका कहना है कि वे अपने बेटे से खासी परेशान हैं और उनकी बहु उनसे रोज़ शिकायत करती है। कई वकीलों से भी बात की जा रही है कि IPL की लत के आधार पर तलाक़ की मांग की जा सकती है या नहीं।



ऐसी अन्य ख़बरें