Thursday, 23rd March, 2017
चलते चलते

'ज्यादा ट्रैफिक कहाँ होता है' इस पर भिड़े दिल्ली-मुंबई वाले, खाली सड़क पे लगा दिया लंबा जाम

12, Jan 2017 By banneditqueen

जयपुर. आज सुबह ही जब ट्विटर पर मुम्बई ट्रैफिक पर बात छिड़ी तो दिल्ली वाले भी बहस में कूद पड़े। कल ही जब मुम्बई वाले ठंड को लेकर शिकायत कर रहे थे कि इस साल मुम्बई में ठंड है उसी बात पर दिल्ली वाले हँस पड़े। जयपुर के कॉलेज में पढ़ने वाले शशांक दिल्ली का रहने वाला था और ललित मुम्बई का। दोनों ही सुबह जब चाय पीने निकले तब खाली सड़क देख कर ट्रैफिक की बात होने लगी।

झगड़ा करते ललित और शशांक
झगड़ा करते ललित और शशांक

शशांक ने कहा कि “यार दिल्ली के ट्रैफिक में घुसने से अच्छा पैदल चले जाओ।” इसी बात पर ललित ने कहा “तुम दिल्ली वालों को तो हर वक्त अपना गम ज्यादा लगता है, चाहे ठंड हो या रेप हो या ट्रैफिक। कभी आओ मुम्बई शाम को एक कि.मी. पार करने में ही एक घंटा निकल जाएगा। चार बार लाल बत्ती हरी हो जाएगी पर तुम्हारी गाड़ी जहाँ पहले थी वहीं रहेगी। दिल्ली वालों को तो हर जगह अपनी ही शेखी बघारनी होती है।” इसी बात पर दोनों में जमकर बहस होने लगी। आदत से मजबूर भारतीय जहाँ किसी को लड़ता देखते हैं वहीं गुड़ पे मक्खी की तरह जमा होने लगते हैं।

भीड़ में भी कुछ दिल्ली मुम्बई वाले थे वो भी बहस में कूद पड़े। फिर क्या था बात बहस से हाथापाई में बदलने में देर नहीं लगी। धीरे धीरे कई लोग और जमा हो गए। सड़क पर लोगों की इतनी भीड़ जमा हो गई कि लम्बा सड़क जाम हो गया। लोग आश्चर्य में थे कि हमेशा खाली रहने वाली सड़क पर इतना जाम कैसे लग गया। पहली बार लम्बा जाम लगने के कारण मीडिया भी इसे कवर करने पहुँची। जब बात की तह का पता लगा तब लोग अपना माथा पीटने लगे यह सोचकर कि ट्रैफिक जाम ज्यादा कहाँ होता है इसी बात पर इतना ट्रैफिक जाम लगा दिया। हालांकि आज के बाद जयपुर वाले भी गर्व से कह सकेंगे कि यहाँ दिल्ली और मुम्बई से भी ज्यादा ट्रैफिक जाम हो सकता है।



ऐसी अन्य ख़बरें