Monday, 26th June, 2017
चलते चलते

अब भारतीय चुड़ैल भी पहन सकेंगी रंगीन स्कर्ट और टॉप, सफेद साड़ी से मिली मुक्ति

27, May 2017 By bapuji

नर्क. एक जमाना था जब किसी भी भारतीय चुड़ैल को उसके उल्टे पैरो और ख़तरनाक चेहरे से ही पहचाना जाता था, डरावने चेहरे वाली इस चुड़ैल को देखकर अच्छे-अच्छे बाहुबली और सूरमा अपनी धोती मिनट मे पीली कर देते थे लेकिन बदलते वक़्त के साथ नर्क के एक क़ानून की वजह से चमचमाती हुई सफेद साड़ी, भारतीय चुड़ैल समाज की पहचान बन गयी। सदियो पुराने इस क़ानून ‘नर्क यूनिफॉर्म एक्ट’ के अनुसार भारतीय चुड़ैल सिर्फ़ सफेद साड़ी ही पहन सकती थी।  इसके बात तो  लगभग सारे भूतिया टीवी सीरियल मे भी हॉट-हॉट चुड़ैल, सिर्फ़ सफेद साड़ी मे लिपटी दिखाई दी। chudail

लेकिन चुड़ैल अधिकार मोर्चा के अनुसार ये पुराना क़ानून प्रगतिशील रूहानी समाज पर एक तमाचा था और चुड़ैल बहनों के अधिकारो का हनन भी था। हमारे रूहानी डिवीजन को प्राप्त सूचना के अनुसार कल शाम को भारतीय चुड़ैल समाज ने जमकर खुशी मनाई जब नर्क के क़ानून मे बदलाव के बाद अब उन्हे रंगीन स्कर्ट और टॉप पहनने की इजाज़त मिली। लंबे संघर्ष के बाद हासिल इस जीत से चुड़ैल समाज का जोश और आत्मविश्वास बढ़ा है। अब हमारी भारतीय चुड़ैल भी विदेशी चुड़ैल बहनो की तरह अपने मनपसंद कपड़े पहन सकेंगी, जिनमे स्कर्ट,टॉप और हॉट पेंट्स भी शामिल हैं।

ऐसे मे हमारे एक संवाददाता ने अपनी इस जीत पर इतराती एक चुड़ैल शुभी से बात की। लाजपत नगर इलाक़े से चुड़ैल बनी शुभी चुड़ैल अधिकारो के लिए लंबा संघर्ष करती आई है। स्लीवलेस टॉप और छोटी सी स्कर्ट मे चहकती हुई शुभी ने कहा कि- ” कम आन यार ! हम तो ये वाइट साड़ी पहन के बोर हो गये थे अब तो लोग भी तुरंत पहचान जाते थे और हमारे ट्रैप मे नहीं फंसते थे, इस ड्रेस कोड की वजह से आधा समय तो क्लोथ्स को वॉश करने मे ही चला जाता था। क्या एक चुड़ैल के राइट्स नही हैं?”

वैसे इस फ़ैसले से सिर्फ़ चुड़ैल ही नही बल्कि अपने भूत भाई भी काफ़ी खुश नज़र आए। “अब जा के थोड़ी रौनक आएगी, ससुरा इनको युनिफ़ॉर्म  मे देख के दिमाग़ का दही हो गया था।” खून पी कर थूकते हुए भूत मनीष ने हमारे संवादाता को बताया।



ऐसी अन्य ख़बरें