Sunday, 25th February, 2018

चलते चलते

हवाई चप्पल को भी मिलेगा हवाई जहाज में जाने का मौका, यह सुन हवाई चप्पलें खुश

02, Feb 2018 By banneditqueen

एजेंसी. हर साल की शुरुआत में बजट आता है, विपक्ष फूफा जी मोड में हर कदम में कमी निकालता है और पक्ष लड़केवालों की तरह अपने बजट की तारीफ करते नहीं थकते। इस वर्ष भी यही प्रथा चालू रही, जहाँ एक तरफ बीजेपी सरकार ने बजट को गरीबों के हक़ में बताया वहीँ दूसरी तरफ विपक्ष ने इस बजट को मिडिल क्लास विरोधी बताया।

जेटली के बयान से हवाई चप्पलें खुश
जेटली के बयान से हवाई चप्पलें खुश

बजट भाषण के दौरान जेटली जी ने कहा कि वो हवाई यात्राओं की संख्या बढ़ाएंगे जिसके चलते यात्राएं सस्ती होंगी और हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई यात्रा कर पाएगा। इन सब के चलते केवल विक्रेता और लोअर मिडिल क्लास ही नहीं हवाई चप्पलें भी खुश हैं। आल इंडिया चप्पल संघ की अध्यक्षा घिसीपिटी देवी का कहना है कि ”हम चप्पलों को शायद ही कभी हवाई जहाज में बैठने का मौका मिलता है, ये महंगे महंगे  चीफ और वुडलैंड के जूते चप्पल ही हवाई जहाज में सफर करते हैं। पर अब हम गरीब चप्पलों को भी हवा में घूमने का मौका मिलेगा। हमारा नाम ही हवाई चप्पल है फिर भी आज तक हम हवाई जहाज में सफर नहीं कर पाए अब ये नाइंसाफी और नहीं होगी। हम सभी लोग मोदी जी और जेटली जी को आभार जताना चाहते हैं और यह वादा करते हैं कि उनकी चरणों की सेवा हमेशा करेंगे।”

जेटली जी के बयान के बाद वह लोग जिन्होंने आज तक हवाई यात्रा नहीं की थी वो सभी हवाई चप्पल खरीदने निकल गए। चप्पलों की दुकानों में अचानक बढ़ती भीड़ से दुकानदार भी आश्चर्यचकित हो गए। कई दुकानदारों ने मौके का फायदा उठा कर पुराना माल भी महंगे दामों पर बेच डाला। ऐसी भी खबरें आई कि मंदिरो के बाहर से महँगी चप्पलों की बजाय हवाई चप्पलें चोरी हो रही हैं।

अचानक बढ़ी भीड़ के चलते चप्पलों के विक्रेता काफी खुश नज़र आए। एक दुकानदार ने बताया कि ”लोग हवाई चप्पल काम ही खरीदने आते हैं, एक बार खरीदने के बाद वो तीन चार साल चलती ही है। फैंसी चप्पल है तो लोग शादी पार्टी ब्याह में हर थोड़े दिन बाद नई लेते हैं पर चप्पल के साथ तो ऐसा नहीं है। चप्पल बेचने वाला चाहे मिडिल क्लास हो या अप्पर इस बजट से सभी विक्रेता खुश हैं।



ऐसी अन्य ख़बरें