Monday, 24th July, 2017
चलते चलते

शॉपिंग टीवी चैनल पर काम करने वाली लड़की को देखने आए लड़के वाले, सब बहरे होकर लौटे

15, Jul 2017 By Ritesh Sinha

मुंबई. आजकल टीवी पर शॉपिंग चैनल्स की भरमार हो गई है, जिसमे लड़के-लड़कियां दिन भर चिल्ला-चिल्लाकर सामान बेचते रहते हैं। सलोनी गुप्ता भी, ऐसे ही एक टेलीमार्केटिंग टीवी चैनल ‘बापतौल’ में पिछले दो सालों से काम करती है। हर रोज़ टीवी पर आना और पूरी ताकत से चिल्लाकर, बर्तन-भाड़ा बेचना ही उसका मुख्य काम होता है। यही वजह है कि उसे जोर से बोलने की आदत पड़ गई। पिछले रविवार को उनके घर कुछ मेहमान शादी की बात चलाने आए हुए थे। दरअसल, ये मेहमान सलोनी से कभी मिले नहीं थे, बल्कि उसकी फोटो देखकर ही उन्होंने उसे पसंद कर लिया था।

इसी युवती को देखने आए थे
इसी युवती को देखने आए थे

घर आए मेहमानों की जमकर खातिरदारी की गई। सलोनी भी वहीँ सबके साथ चुपचाप बैठी हुई थी, तभी लड़के के पिताजी ने चाय की चुस्की लेते हुए कहा कि- “भई! हमें तो लड़की पसंद है, अब सलोनी के ऊपर है कि उसे हमारा बेटा हिमेश पसंद आया कि नहीं?” इतना सुनते ही सलोनी ने अचानक हिमेश से पूछ लिया “ये शर्ट कितने रुपयों की है? यह अजीब सवाल सुनकर हिमेश चौंक गया, फिर अपने आप को संभालते हुए बोला- “पंद्रह सौ की तो है! मॉल से ली है!”

हिमेश का जवाब सलोनी को बिल्कुल पसंद नहीं आया, वह तुरंत फॉर्म में आ गई और उन्होंने अपना भाषण देना शुरू कर दिया। “बापतौल की तरफ से हम आपके लिए लेकर आए हैं, 999 रूपये में पांच स्टाइलिश शर्ट! महाऑफर चल रहा है आज बापतौल में! तो अभी आर्डर कीजिए ये पांच बेहतरीन शर्ट, और बन जाइए मुकद्दर का सिकंदर, क्योंकि ना जाने कब हमारे स्टॉक ख़त्म हो जाएं! जल्दी कीजिए! इस वक़्त पूरे देश से हमें फोनकॉल्स आ रहे हैं! जल्दी कीजिए!”

सलोनी की आवाज बहुत तेज़ थी, जैसा अक्सर इन चैनलों में होता है। वहां मौजूद सभी लोगों ने अपना कान बंद कर लिया था, इसके बावजूद तेज़ आवाज से आधे मेहमान मौके पर ही बहरे हो गए। लेकिन वो यहीं पर कहाँ रूकने वाली थी, उसने फिर जोर से बोलना शुरू कर दिया- “तो जल्दी से फोन उठाइए और इस कॉम्बो पैक के मालिक बन जाइए। यकीन मानिए, जब आप इस शर्ट को पहनकर पार्टी में जाएंगे, तो सारी लडकियां, सिर्फ और सिर्फ आपको देखेंगी। अब हमारे पास बचे हैं सिर्फ दो सौ शर्ट! सन्डे धमाका चल रहा है आज बापतौल में! जल्दी कीजिए!”

जैसे ही सलोनी ने बोलना बंद किया, बाकि बचे हुए मेहमान भी बहरे हो गए। “भागो!” -कहते हुए सब घर से बाहर निकल गए। तुरंत कार में बैठे और दनदनाते हुए अपने घर की ओर बढ़ने लगे। थोड़ी दूर जाने के बाद हिमेश के डैड ने उससे पूछा “क्यों बेटा! कैसी लगी लड़की?” तो हिमेश ने जवाब दिया कि “नहीं पापा! अभी टंकी फुल है, और पेट्रोल डलवाने की जरूरत नहीं है!” “अच्छा हुआ बेटा तूने मना कर दिया!”-उसके पापा ने ठंडी आह भरते हुए कहा।



ऐसी अन्य ख़बरें