Thursday, 17th August, 2017

चलते चलते

मेदूवड़े पर मलाई लगाकर उसे मिल्क-चोको डोनट कह बेचने वाले दो शख्स गिरफ्तार

17, Jun 2017 By Pagla Ghoda

चेन्नई: अमेरिकी चाल चलन के प्रभाव के चलते पूरे देश में आजकल ब्लैक कॉफ़ी के साथ डोनट खाने का रिवाज़ सा चल पड़ा है, परन्तु बहुत से रेस्टोरेंट चलाने वाले अभी डोनट बनाने की सही विधि से परिचित नहीं है। लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि ये रेस्टोरेंट वाले अपने ग्राहकों को डोनट परोसते ही नहीं हैं। इसी सिलसिले में एक अजीबवाकया सामने आया जहाँ “मुथप्पा रॉयल बार एंड फॅमिली रेस्टोरेंट” नामक एक रेस्टोरेंट्स के मालिकों को मेदूवड़े पर मलाई लगाकर उसे मिल्क-चोको डोनट कहकर परोसने के जुर्म में गत शाम गिरफ्तार कर लिया गया। दुकान को भी दो घंटे के लिए सील कर दिया गया। दुकान में मौजूद सारा सामान जैसे कि नारियल चटनी, टोमेटो चटनी, अनियन चटनी, मिंट चटनी, कर्ड राइस, कर्ड राइस विथ पिकल और पच्चीस तरह की इडली इत्यादि पदार्थों को भी सर्किल इंस्पेक्टर साहिब ने जब्त करके अपने घर भिजवा दिया, जहाँ वो स्वयं इन सभी पदार्थों की नज़दीकी जांच करेंगे।

1200px-Glazed-Donutबेल मिलने के बाद रेस्टोरेंट के मालिक मुथप्पा थी आगराजन अरविंदन कोटिपल्ली राजगिरि आयंगर (इन शार्ट मुथ्थु) ने फेकिंग न्यूज़ से बात की। उन्होंने कहा, “मैं क्या करना चाहिए, क्या नहीं, ये बताने का ऑथोरिटी किसी का पास में नहीं। हमारा रेस्टोरेंट में पब्लिक आके डोनट मांगता। अभी क्या करने का? हम क्रीम लेके मेडुवाड़ा पेलगाया। पब्लिक उसको लाइक भी किया, अभी इसमें पुलिस को क्या भी प्रॉब्लम होना नहीं चाहिए? ये प्रॉपर कॉन्सपिरेसी है हमारा खिलाफ।”

मुथ्थु के छोटे भाई जथ्थु ने भी इसे दुश्मनों की साज़िश बताया। अपने बचाव में उन्होंने कहा, “मेडुवाड़ा और फ़िल्टर कॉफ़ी के टोटल बिल 15 रूपीस आता। लेकिन वोईमलाई हम काफी में से निकाल के वड़ा पे लगाता तो उसका डोनट बन जाता और कॉफ़ी का एक्सप्रेसो बन जाता। इस कॉम्बिनेशन को हम लोग पूरा 95 रूपीस में बेचताऔर पब्लिक खुश होक खाता, तो इसमें सबका फ़ायदा, राइट? लेकिन वो सामने वाले रेस्टोरेंट का मंगलुस्वामी हमसे जेलस होके हमारे ख़राब कंप्लेंट करता। थिस इसरांग।”

हालाँकि दोनों भाइयो को बेल मिल चुकी है और उनका रेस्टोरेंट भी फिर से खोल दिया गया है, परन्तु कोर्ट की अगली सुनवाई तक दोनों को बेसिक इडली और चाय केअलावा कुछ भी बेचने की सख्त मनाही है। लेकिन पुलिस वाले बीच बीच में आकर दुकान में बने सभी पदार्थों की पूरी तकनीकी जांच करते रहेंगे।



ऐसी अन्य ख़बरें